1. खेती-बाड़ी

Angur Ki Kheti: अंगूर की इन उन्नत किस्मों से मिलेगा तगड़ा मुनाफा

अंगूर की खेती भारत में सबसे अधिक मांग वाला एक कृषि व्यवसाय है. लोगों के बीच इस स्वादिष्ट और सेहतमंद फल का खास मज़ा है. अंगूर गर्मियों में सबसे अधिक मांग वाले फल होते हैं क्योंकि यह रसदार और स्वास्थ्यवर्धक होते हैं. यह स्वादिष्ट फल हमारे पीएच स्तरको बनाए रखने में मदद करता है.

रुक्मणी चौरसिया
Grape Farming
Grape Farming

अंगूर की खेती (Grape Farming) भारत में सबसे अधिक मांग वाला एक कृषि व्यवसाय (Farming Business) है. अंगूर दुनिया में सबसे लोकप्रिय फल (Popular Fruit) हैं. लोगों के बीच इस स्वादिष्ट और सेहतमंद फल का खास मज़ा है. अंगूर गर्मियों में सबसे अधिक मांग वाले फल होते हैं क्योंकि यह रसदार और स्वास्थ्यवर्धक  होते हैं. यह स्वादिष्ट फल हमारे पीएच स्तर (pH Level) को बनाए रखने में मदद करता है. साथ ही यह कई रंगों और कई किस्मों में उपलब्ध है.

भारत में अंगूर की खेती (Grape Farming in India)

भारत में अंगूर लगभग 40,000 हेक्टेयर में उगाया जाता है. जिसमें मुख्य रूप से महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में शामिल है. भारत में महाराष्ट्र प्रमुख राज्य है जहां अंगूर सबसे अधिक मात्रा में उगाए जाते हैं. अंगूर उगाना भारत में सबसे अधिक लाभकारी खेती है. भारत में आम तौर पर अंगूर अक्टूबर से जनवरी तक उगाए जाते हैं. वसंत अंगूर का मौसम है क्योंकि यह मौसम भारत में अंगूर उत्पादन के लिए अनुकूल होता है. कभी-कभी अंगूर की बुवाई जून-जुलाई के दौरान की जाती है जहां वर्षा देर से होती है.

अंगूर के प्रकार (Varieties of Grapes)

थॉम्पसन सीडलेस (Thompson Seedless)

भारतीय अंगूर की किस्मों की सूची में पहली किस्म थॉम्पसन सीडलेस है.यह हल्के हरे अंडाकार आकार के अंगूर भारत में असाधारण रूप से आम हैं. थॉम्पसन सीडलेस उत्तरी भारत में पंधारी साहेबी, ब्यूटी सीडलेस और ब्लैक हैम्बर्ग के साथ प्राथमिक और सबसे अधिक उगाया जाने वाला अंगूर है.

बैंगलोर ब्लू, कर्नाटका (Bengaluru Blue Grapes, Karnataka)

सूची में दूसरी अंगूर की किस्म बैंगलोर ब्लू है. थॉम्पसन सीडलेस किस्म के अलावा, बैंगलोर ब्लू लोगों के बीच प्रसिद्ध है. इस किस्म की खेती कर्नाटक राज्य में व्यापक रूप से की जाती है. इस किस्म का उपयोग जैम और जेली बनाने के लिए किया जाता है. ये नीले अंगूर अपने स्वाद के कारण लोगों के बीच एक खास पहचान रखते हैं. गर्मी के दिनों में ये आपके शरीर को हाइड्रेट रखते हैं.

अनब--शाही, आंध्र प्रदेश (Anab-E-Shah Grapes, Andhra Pradesh)

सूची में तीसरा अंगूर अनाब-ए-शाही है. इस किस्म के अंगूरों का सेवन कच्चा और रस के रूप में किया जाता है. अनाब-ए-शाही अंगूर भारतीय राज्यों आंध्र प्रदेश, पंजाब, तमिलनाडु, हरियाणा आदि में उगाए जाते हैं. इस फल के बीज और छिलके में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं. अंगूर का आकार लम्बा होता है और बीज सफेद होते हैं.

दिलखुश (Dilkhush Grapes)

सूची में चौथी अंगूर की किस्म दिलखुश अंगूर है. इस अंगूर की किस्म को सुल्ताना अंगूर की तरह अनाब-ए-शाही का क्लोन माना जाता है. दिलखुश अंगूर का स्वाद तीखा होता है. बता दें कि मार्च और अप्रैल के गर्मी के दिन में इन्हें उगाने का सबसे अच्छा मौसम होता है. कर्नाटक कई अन्य राज्यों के साथ अपने उत्पादन में पहले स्थान पर है.

शरद सीडलेस (Sharad Seedless Grapes)

सूची में पांचवीं किस्म शरद बीजरहित है. अंगूर की यह किस्म काले और बैंगनी रंगों में उपलब्ध है. इसमें अच्छी मिठास होती है और यह चमकीले रंगों में उपलब्ध होती है. शरद बीजरहित अंगूरों में उच्च विटामिन ए, सी और बी6 होते हैं जो उन्हें भारत में स्वास्थ्य के अनुकूल फल बनाते हैं. अंगूर की यह किस्म देश के उत्तरी भागों में अत्यधिक उगाई जाती है और मुंबई भारत में अंगूर उगाने वाला केंद्र है. शरद बीजरहित अंगूर की खेती के लिए दिसंबर और फरवरी के महीने सबसे अच्छे होते हैं. इसका स्वाद और स्वास्थ्य गुणों के चलते इसकी विदेशी बाजारों में काफी मांग में है.

अंगूर के स्वास्थ्य लाभ (Health benefits of grapes)

  • विटामिन सी और के जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं.

  • अंगूर के उच्च एंटीऑक्सीडेंट के साथ पुराने रोगों की रोकथाम की क्षमता होती है.

  • अंगूर के पौधे कैंसर से बचाते हैं.

  • हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है.

  • कोलेस्ट्रॉल को घटाता है.

  • रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है.

  • मधुमेह से बचाव करते हैं.

English Summary: Grape farming and these improved varieties of grapes will give big profits Published on: 01 January 2022, 03:57 IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News