1. खेती-बाड़ी

बरसात के मौसम में लगने वाले रंग-बिरंगे फूलों की बागवानी

स्वाति राव
स्वाति राव
Flower

Flower

लाल,पीले, हरे, नीले हर रंग के फूल मन को मोह लेते है. रंग बिरंगे फूलों की बागवानी मन को प्रसन्नता देती है. बरसात का मौसम आते ही चारों तरफ हरियाली छाने लगती है. वातावरण बहुत ही सुंदर हो जाता है. बागवानी के लिए महत्वपूर्ण हैं कि कौन से फूलों के बीज किस समय लगाना है इसका ध्यान रखा जाए. इस लेख में आप जानेंगे कि बरसात में आपको अपने बगीचे को सुगन्धित करने के लिए  कौन से फूल लगाना  चाहिए

गेंदा (MARIEGOLD)

गेंदे से तो आप सभी परिचित होंगे .इसकी बहुत सारी प्रजातियां है जैसे- बड़ा गेंदा,छोटा गेंदा,फ्रेंच, सफेद गेंदा इत्यादि. बरसात का मौसम तो आ  ही गया है तो इसकी आप सीडलिंग्स कर सकते है. इसका बीज बहुत बारीक एवं  हल्का होता है. इस बीज को  जब भी आप जमीन पर लगायें तो गहरा  न लगायें. बीज  को लगाकर ऊपर से गोबर की हल्की- सी खाद की परत  बना दे. 4-5 दिन बाद इसमें  बीज अंकुरित होने लगता है. इसकी छोटी-छोटी सीडलिंग्स बनती है. जिसे 10-15 दिन तक बहुत संभालकर रखियेगा. और जब इस सीडलिंग्स में हल्की - हल्की पत्तियां आने लग जायें तब आप इसे दूसरी जगह लगा सकते है.

पोपी (POPPY)

यह बड़ा ही प्रसिद्ध पौध है. हम बीज के द्वारा इसकी बागवानी कर सकते है.इसका बीज बहुत छोटा होता है.इसकी बागवानी के लिए इसके बीज को गहरा न लगायें . बीज को लगाकर  ऊपर से गोबर की थोड़ी -सी खाद की परत बना दे. इस बात का ध्यान रखना होगा कि इसकी सीडलिंग्स करते समय इसको मिट्टी सहित लगाना है.

कैलेन्डूला (CALENDULA)

यह दुनिया का सबसे तेजी से  बढ़ने वाला पौधा है.  इसकी एक खासियत है कि अगर हम इसे ऐसे ही भूमि में डाल देंगे तब भी  यह पनप जाता है. इसकी सीडलिंग्स बहुत ही उपजाऊ होती है इसलिए यह 10-15 दिन के अंदर, दूसरी जगह लगाने के लिए तैयार हो जाता है.आप इसे गमले एवं जमीन दोनो जगह लगा सकते है.

सदाबहार (VINCA)

इसकी पौध को लगाने के लिए ज्यादा देखरेख की जरुरत नहीं पड़ती .इसकी विशेषता यह है कि बहुत फूल देता है . बीज से इसको लगा सकते है . किसी अच्छी कंपनी का बीज खरीदेंगे तो ज्यादा उपयुक्त  रहेगा. पौधा लगने के 40 दिनों में फूल आना शुरु हो जाते है.

कैलोशिया (CELOSIA)

सतरंगी रंग के लिए एवं सतरंगी बहार के लिए आप इसे अपने बगीचें में जरुर लगायें. जो बगीचे को प्राकृतिक खूबसबरती प्रदान करता है . इसके बीज बहुत बारीक होते है एवं इसके बीज बहुत जल्दी उगते है. बीज के अंकुरित होने के 20 दिन बाद आप इसके छोटे –छोटे पौधों  को  दूसरी जगह लगा सकते है.

मोगरा (JAISMINE)

यह बहुत ही प्रसिद्ध  फूल है, खुश्बू और सुंदरता के मामले में इसका कोई मुकाबला नहीं है. इस समय आसानी से इसकी बागवानी की जा सकती है. इसकी 4-4 ईंच की कटिंग बना कर इसको मिट्टी में लगा सकते है.समय-समय पर इसको पानी देते रहियेगा. 15-20 दिन के अंतराल से  इसमें फूल आना शुरु हो जाते है.

यह बारिश के मौसम की बागवानी आपके बगीचे को प्राकुतिक सुंदरता प्रदान करेगी , आपके घर को, बगीचे को  अपनी सुगंध से सुगंधित रखेगी. मौजूदा समय में फूलों, सब्जियों और औषधीय पौधों की खेती को नगदी फसल माना जाता है। ये किसानों को ज्यादा मुनाफा देती हैं। इऩमें भी फूलों की खेती तेजी से किसानों में लोकप्रिय हुई है  तो आप बगीचे की सुन्दरता बढ़ाने के साथ ही फूलों की खेती से मुनाफ़ा भी कमा सकते है .
हम आपको अपने लेखों  में आगे भी बागवानी से जुड़ी जानकारियां देते रहेगें. पढ़ते रहिएं कृषि जागरण ...

English Summary: flowers growing in rainy season

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News