1. खेती-बाड़ी

इस दिव्यांग किसान के जज्बे को आप भी करेंगे सलाम, देखिए कैसे कर रहे हैं खेती

श्याम दांगी
श्याम दांगी
kisan

हमने अक्सर अपने बुजुर्गों यह कहते हुए सुना है कि कर्म ही पूजा है. जब आप कर्म करते हैं तभी आपको सफलता मिलता है. इसके बावजूद  बहुत से लोग ऐसे हैं, जो बिना कुछ किए सबकुछ हासिल करना चाहते हैं. दफ्तर हो या कोई और जगह सभी जगह काम से जी चुराने वाले लोग मिल जाएंगे. जिनकी महनत करने की नीयत नहीं होती वो अक्सर बहाने करते रहते हैं और अपने भाग्य को कोस्ते हैं. ऐसे में इस दिव्यांग किसान की ये तस्वीर सभी को सोचने पर मजबूर करती है और कहती है कि कभी किसी को महनत करने से नहीं बचना चाहिए. इस तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि खेती के प्रति एक दिव्यांग किसान लगन साफ देखी जा सकती है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस किसान की वीडियो सभी के लिए एक अध्याय पढ़ाती है. काफी लोग इस वीडियो को देख दिव्यांग किसान के हौसले को सलाम कर रहे हैं.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में एक दिव्यांग किसान कड़ी मेहनत को शिद्दत से पेश कर रहा है. वीडियो में दिखाई दे रहा है कि अपने दोनों पैर की ताकत खोने के बावजूद वही तपती धूप में खेत जोत रहा है. इस  दिव्यांग किसान के दोनों पैर काम करने के काबिल नहीं है लेकिन इसकी महनत ने ये दिखा दिया है कि काबिल बनन के लिए जज्बे की जरूरत होती है. अगर हौसला बुलंद हो तो कोई कमजोरी पास नहीं टिकती.  भले ही इस किसान के पैरों में काम करने की ताकत ना हो लेकिन ये अपने हाथों से खेत की जुताई कर रहा है. एक हाथ से वह अपना बैलेंस बना रहा है तो दूसरे हाथ से फावड़े की मदद से खेत की जुताई कर रहा है. दरअसल, वायरल हो रही तस्वीरों में ये दिव्यांग किसान फावड़े की मदद से खेत से खरपतवार निकाल रहा है.

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर आईएफएस अफसर सुसांता नंदा ने शेयर किया है. उनके ट्विटर अकाउंट से शेयर किए गए इस वीडियो को अबतक 15 हजार से अधिक लोग देख चुके हैं. 250 से ज्यादा लोग वीडियो को रीट्वीट किया है. आपको बता दें कि ट्विटर पर एक यूजर के मुताबिक यह वीडियो तेलांगना के सूर्यापेट जिले के किसान का है. 

English Summary: divyang farmer ploughing field video is making people emotional on social media

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News