MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. खेती-बाड़ी

DBW 252 Wheat Variety: गेहूं की इस किस्म से एक बार सिंचाई करने पर 55 क्विंटल तक पैदावार, 127 दिनों में पककर तैयार

रबी सीजन में गेहूं की फसल सबसे अच्छी मानी जाती है. इसलिए देश के ज्यादातर किसान खरीफ फसलों की कटाई के बाद इसकी खेती करना शुरू कर देते हैं. गेहूं की फसल से अधिक पैदावर प्राप्त करने के लिए इस किस्म का चुनाव करें...

लोकेश निरवाल
DBW 252 variety of wheat yields up to 55 quintals once irrigated, ready to ripen in 127 days
DBW 252 variety of wheat yields up to 55 quintals once irrigated

रबी सीजन में किसान भाइयों ने अपने खेत में फसलों की तैयार शुरू कर दी है, जिसके तहत ज्यादातर किसान इस सीजन में मुख्य फसल गेहूं की खेती सबसे अधिक करते हैं. लेकिन गेहूं की अच्छी पैदावार प्राप्त करने के लिए गेहूं की उन्नत बीजों का ज्ञान होना बेहद जरूरी है.

अगर आप भी रबी सीजन में गेहूं की खेती करने जा रहे हैं, तो ऐसे में आपको इसके बारे में पता होना बेहद जरूरी है कि रबी सीजन में गेहूं की कौन-सी किस्म सबसे अच्छी रहती है. जिससे आपको अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वैज्ञानिकों ने गेहूं की कई तरह की ऐसी किस्में विकसित कर रखी हैं, जो किसान को कम से कम समय में अच्छा मुनाफा कमा कर दें सकती हैं. तो आइए वैज्ञानिकों के द्वारा तैयार की गई गेहूं की एक ऐसी किस्म के बारे में जानते हैं, जो आपके लिए बेहद लाभकारी है.

डीबीडब्ल्यू 252 गेहूं की किस्म (DBW 252 wheat variety)

गेहूं की करण श्रिया किस्म को अच्छी किस्म माना जाता है, जो किसानों को अच्छा लाभ देती है. इस गेहूं की किस्म को DBW 252 के नाम से भी जाना जाता है, जिसे भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद-भारतीय गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान करनाल (ICAR-IIWBR) के वैज्ञानिकों ने मिलकर तैयार किया है.

रोग प्रतिरोधी DBW 252 गेहूं की किस्म

DBW 252 गेहूं की किस्म की सबसे अच्छी खासियत यह है कि इसकी फसल में ब्लास्ट रोग आदि की संभावना बेहद कम पाई जाती है. किसान इस किस्म की बुवाई 25 अक्टूबर से 5 नवंबर तक के बीच में कर सकते हैं.  बता दें कि यह किस्म देश के उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल आदि राज्यों के किसानों के लिए सबसे अच्छी है. दरअसल इन इलाकों में इसकी फसल से किसान बेहतर उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं.

कितने दिन में पककर तैयार होती है

गेहूं की यह किस्म खेत में बुवाई करने के मात्र 127 दिनों के अंदर अच्छे से पककर तैयार हो जाती है. देखा जाए तो इसके पौधे की ऊंचाई लगभग 97 से 99 सें.मी होती है. इस किस्म में लौह तत्व की मात्रा 43.1 पी.पी एम पाई जाती है.

DBW 252 की उत्पादन क्षमता

अगर हम DBW 252 किस्म के गेहूं उत्पादन (wheat production) की बात करें, तो किसान इससे अच्छी तरीके से बुवाई करने के बाद 1 हेक्टेयर खेत से लगभग 55 क्विंटल तक पैदावार प्राप्त कर सकता है. यह पैदावार किसान को सिर्फ एक ही बार की सिंचाई में प्राप्त होगी. वहीं इसके 100 दानों का भार 44 से 46 ग्राम तक होता है.

English Summary: DBW 252 variety of wheat yields up to 55 quintals once irrigated, ready to ripen in 127 days Published on: 16 October 2022, 11:19 AM IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News