1. खेती-बाड़ी

गीताजंलि चला रही है आर्गेनिक खेती की कंपनी, ग्राहक उगवा रहे है सब्जी

किशन
किशन
firta

एक तरफ जहां पर देश में लोगों का रूझान खेती के प्रति कम होता जा रहा है तो वही दूसरी ओर कर्नाटक की 37 साल की गीतांजलि राजामणि एक ऐसी महिला है जो कि खेती में अलग तरीके अपनाकर अपने साथ ही दूसरों की आमदनी को बढ़ाने का प्रयास कर रही है. दरअसल गीतांजलि ने वर्ष 2017 में दो दोस्तो के साथ मिलकर स्टार्टअप कंपनी फार्मिजन शुरू की थी. इनकी कंपनी बेगंलुरू, हैदाराबाद और सूरत में काम कर रही है. दरअसल वह एक तरफ तो बराबर पार्टनरशिप करके उनसे जैविक खेती करवाने का कार्य कर रही है. दूसरी तरफ उनके खेत को 600-600 वर्गफुट के आकार में बांटकर ग्राहकों को 2500 रूपए प्रति माह की दर पर किराए पर दे देती है.

ग्राहक मोबाईल एप से प्लांट पसंद करते

सबसे खास बात यह है कि ग्राहक प्लांट मोबाईल एप से चुनकर पसंद की सब्जियों को लगवाने का कार्य करते है. जब सब्जियां तैयार हो जाती है तो फार्मिजन का वाहन ग्राहकों के घर तक उनको पहुंचा देता है.इससे दो फायदे प्राप्त हो रहे है सबसे पहली ग्राहकों को सत प्रतिशत आर्गेनिक सब्जियां घर बैठे ही प्राप्त हो रही है साथ ही दूसरी बात कि किसानों की कमाई भी तीन गुना तक बढ़ गई है. तीन माह पहले ही फार्मिजन ने जैविक फलों की डिलीवरी करने का कार्य भी शुरू कर दिया है.

organic farming

किसान और ग्राहकों को मनाना बड़ी चुनौती

उनका कहना है कि हमें एक अनुभवी किसान नारायण रेड्डी भी मिले जिनका खेत उर्वरकों और कीटनाशकों के इस्तेमाल के सहारे खराब हो रहा था.  वह हमारे साथ ही कार्य करने को राजी हो गए है. उनका कहना है कि बाजार में जो भी गोभी मिलती उन्हें ब्लीच करके सफेद किया जाता है. यह बिल्कुल ठीक नहीं है. जैविक गोभी कीड़ों के लिए पूरी तरह से सेफ है तो यह आपके लिए भी सुरक्षित है.

फार्मिन का बिजनेस

फार्मिजन किसानों के साथ बराबरी की साझेदारी करने का कार्य करता है. किसानों को यह जैविक खेती पर सलाह देता है. यह आपको बीज और रोपे भी मुहैया करवाता है. छिड़काव के लिए नीम का तेल, अरंडी का तेल भी मुहैया कराता है. किसान सब्जियां उगाते है. स्टार्टअप उपज की मार्केटिंग करता है.

English Summary: Customers are getting better vegetables with the help of organic company

Like this article?

Hey! I am किशन. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News