Weather

देश के इन इलाकों में गरज के साथ मध्यम बारिश होने की संभावना !

Weather Update of India

दिसंबर माह की शुरुआत हो चुकी है. किसानों ने गेहूं फसल की पछेती खेती शुरू कर दी है. अगर बात करें मौसम कि तो ठंड ने अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया है. जिसके चलते अब लोगों ने सर्दियों वाले कपड़े भी पहनने शुरू कर दिए है. यह सर्दी कोई आम सर्दी नहीं बल्कि बीमार करने वाली सर्दी है. क्योंकि बढ़ते प्रदूषण का स्तर हवाओं को दूषित कर रहा है जिस वजह से दूषित कण ठंडी हवाओं में मिलकर लोगों की बीमारी का कारण बन रहे है. मौसम विभाग के अनुसार आने वाले कुछ दिनों में ठंड बढ़ने की संभावना जताई जा रही है. तो वही हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी के बाद केलांग का न्यूनतम तापमान -12.3 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है, जबकि कांगड़ा का अधिकतम तापमान 23.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. अगर बात करें उत्तरप्रदेश कि तो गत दिनों लखनऊ के आसपास के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने की वजह से दिन के तापमान में थोड़ी गिरावट देखने को मिली. इसके अलावा बात करें राजधानी दिल्ली कि तो आज की सुबह इस सीजन की सबसे ठंडी रही. सुबह न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. ऐसे में आइये निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के अनुसार जानते है अगले 24 घंटों के मौसम का पूर्वानुमान-

weather forcasting Agriculture

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

कोमोरिन और दक्षिण तमिलनाडु के आसपास एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बन गया है.एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र हिंद महासागर और लक्षद्वीप पर दिखाई दे रहा है. यह सिस्टम उत्तर तथा उत्तर-पश्चिमी दिशा में बढ़ते हुए और प्रभावी होकर निम्न दबाव का क्षेत्र बन जाएगा. जम्मू और कश्मीर के उत्तरी हिस्सों पर एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है. इसके अलावा, एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र हरियाणा के उत्तरी भागों पर भी बना हुआ है.

आने वाले 24 घंटों के दौरान संभावित मौसम गतिविधियां

आने वाले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप, रायलसीमा और दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक में कुछ जगहों पर गरज के साथ मध्यम बारिश होने की संभावना है. इसके साथ ही उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, तेलंगाना, शेष आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र के दक्षिणी हिस्सों में गरज के साथ हल्की बारिश  के आसार हैं.जम्मू कश्मीर, लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश के पहाड़ी भागों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है. उत्तर भारत में पहाड़ों से लेकर मैदानी भागों तक और गंगा के मैदानी क्षेत्रों में रात के तापमान में गिरावट जारी रहने का अनुमान है



Share your comments