आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. मौसम

सम्पूर्ण भारत का 10-11 नवंबर 2018 का मौसम पूर्वानुमान

भारत देश में जिस तरह से विविध राज्यों में अलग अलग भाषा बोली जाती है और उत्तर से दक्षिण एवं पूर्व से पश्चिम मौसम भी अलग अलग मूड के साथ किसी का तो मन लुभाता है तो कहीं सुहावना होता है और कहीं कहीं तो बारिश और आंधी, ओलावृष्टि, और ठंड से ठिठुरने का एहसास कई दिन रहता है.

क्या मौसम के बारे में हम पहले से कोई अनुमान लगा सकते हैं, इसी को सहज किया कि स्काइमेट ने. रोज मौसम का पूर्वानुमान और यह देखना की पिछले 24 घंटों में मौसम कैसा था और आनेवाले 24 घंटो में मौसम कैसा रहेगा.

कितना अजीब है की कहीं बारिश तो कहीं धूप. यह सब निर्भर करता है सागर से उठने वाली हवाओं और विक्षोभ से. जब सरहज की गर्मी धरती पर पड़ती है तो वहां की हवा गरम हो कर ऊपर उठती है और उसकी जगह दूसरी ठंडी हवाएं जगह लेने की कोशिश करती हैं, इसी से मौसम की उठा पटक होती है.

आइए जानते हैं की आज 10 नवंबर और कल 11 नवंबर को मौसम कैसा रहेगा.  अगले 24 घंटों के दौरान, बंगाल की खाड़ी के दक्षिणी हिस्सों में भारी बारिश का अनुमान है।

अंडमान व निकोबार द्वीप समूह में तेज़ हवाओं चलेंगी, इसके साथ यहाँ भारी बारिश हो सकती है। वहीं, दक्षिणी प्रायद्वीप पर बारिश में कमी आएगी। दक्षिणी तमिलनाडु, केरल और आंध्र प्रदेश तट में एक-दो जगहों पर हल्की बारिश की संभावना है।

विदर्भ, मराठवाड़ा और छत्तीसगढ़ में रात के तापमान में कमी आने का अनुमान है। पूर्वी और उत्तरपूर्वी भारत में सुबह के समय कोहरा छाया रहेगा और तापमान में कमी दर्ज की जाएगी। पूर्वी भारत में मौसम शुष्क रहेगा, और अरुणाचल प्रदेश व मेघालय में हल्की बारिश दर्ज की जा सकती है। उत्तरी पहाड़ी इलाकों में भी वर्षा व बर्फवारी से इंकार नहीं किया जा सकता। पंजाब में आसमान में बादल छाएँ रहेंगे।

देश भर में बने मौसमी सिस्टम

उत्तरी अंडमान सागर पर बना गहरा निम्न दवाब का क्षेत्र पश्चिमी - उत्तर पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ते हुये अब दक्षिण-पूर्व और साथ लगी मध्य-दक्षिणी बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ है। यह सिस्टम अगले 12 घंटों में अधिक चिन्हित हो जाएगा। एक पश्चिमी विक्षोभ इस समय जम्मू व कश्मीर पर बना हुआ है।

कोमोरिन और साथ लगे श्रीलंका पर बना चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र अब एक निम्न दबाव का क्षेत्र के रूप में बदल गया है। एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र लक्षद्वीप और साथ लगे इलाकों पर है। एक अन्य चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बांग्लादेश और साथ लगे उत्तरपूरवी राज्यों पर बना हुआ है।

देश में पिछले 24 घंटों के दौरान दर्ज किया गया मौसम - पिछले 24 घंटों के दौरान, अंडमान व निकोबार द्वीप समूह में तेज़ हवाएँ चली और साथ ही यहाँ पर भारी वर्षा  दर्ज की गई। दक्षिणी तमिलनाडु, दक्षिणी केरल और उत्तरी व पश्चिमी तमिल नाडु में एक-दो जगहों पर भी बारिश हुई। देश के बाकी सभी इलाकों में शुष्क मौसम जारी रहा। वहीं, गंगीय मैदानों में धुंद व कोहरा बना रहा।

तेलंगाना सहित देश के मध्य भागों में रात के तापमान में कमी आई है। इसके अलावा, पूर्वी व उत्तर-पूर्वी भारत में प्रदूषण उच्च स्तर पर बना हुआ है।

साभार: skymetweather.com

चंद्र मोहन, कृषि जागरण

English Summary: Weather Forecast of 10-11 November 2018 of entire India

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News