1. सफल किसान

टमाटर वाली महिला कैसे बनी गांव की लीडर

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

आज हम बात कर रहे हैं रोजीना के बारे में, जो अपनी मेहनत और परिश्रम से सफल महिला किसान बनी. वह अपने परिवार के साथ छोटे से गांव में रहती है. जहाँ कई परिवार चावल, सब्जी या अन्य फसलों की खेती करके अपना जीवन यापन कर रहे हैं. प्रतिदिन रोजीना और उनके साथी अपने खेतों में कड़ी मेहनत करते थे, लेकिन वे अपने परिवारों को क्या खिलाते और अच्छी फसल के बिना गरीबी दूर करना बहुत मुश्किल था . फिर रोज़िना ने एक साहसी कदम उठाया, जिसने बेहतर तरीके से अपनी फसल को बदल दिया. वह वर्ल्ड रेन्यू के स्थानीय भागीदार, एसएटीएचआई द्वारा आयोजित एक सामुदायिक किसान समूह में शामिल हो गई. इस समूह में, किसानों को उनकी कृषि पैदावार बढ़ाने में मदद करने के लिए नई कृषि तकनीकों में प्रशिक्षित किया गया. रोज़ीना को यह जानकर आश्चर्य हुआ कि रासायनिक खाद और कीटनाशक जो बहुत से किसान उपयोग कर रहे थे, वह भूमि को नुकसान पहुंचा सकते थे और स्वस्थ फसलों का उत्पादन करना और भी कठिन बना सकते थे. उसने जो कुछ भी सीखा था, उसे अमल में लाना शुरू कर दिया. उसने अपने घर के छोटे से हिस्से पर टमाटर उगाना शुरू किया - एक परियोजना जिसमें उसकी लागत लगभग 2,415 रुपए आई और उसके पति भी उसके प्रयास में उनकी मदद करने में खुश थे.

कुछ ही दिनों में  रोज़ीना के टमाटर के पौधे फल से भर गए. वह टमाटर के लिए बहुत उत्साहित थी कि वह और उसका परिवार अपने घर के टमाटर खा सकते थे. उसने सोचा की क्यों ना इस टमाटर को बेचा जाए तो उसने अपना टमाटर बेचकर लगभग 12,300 रुपए का मुनाफा किया.

उसने फिर किसानों को अपने बगीचे में आने और उनकी सफलता देखने के लिए आमंत्रित किया. जब इन किसानों ने रोज़ीना की सफलता का प्रमाण देखा, तो वे भी अपने लिए इन नए, पर्यावरण के अनुकूल तरीकों को आज़माने के लिए प्रेरित हुए. आज, रोज़ीना लगातार आगे बढ़ रही है और वह एक मजबूत नेता है. अपने समुदाय में प्रशिक्षित सहकर्मी किसानों में से एक के रुप में खुद को देखकर बहुत खुशी मिलती है और नए किसानों को तकनीकों में जुटाया जाता है जो उन्हें अपने परिवारों के लिए पर्याप्त भोजन देने में मदद करते हैं. रोजीना कहती है कि सभी स्थानीय किसान एक दिन अपने रसोई घर में खाद और जैविक कीटनाशकों का उपयोग करेंगे.

English Summary: succes story of tomato farmer rozina

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News