1. ग्रामीण उद्योग

टिश्यू पेपर के व्यापार में है बंपर मुनाफा, ऐसे होगी कमाई

सिप्पू कुमार
सिप्पू कुमार
tissue

बदलते हुए लाइफस्टाइल के साथ लोगों के खान-पान की संस्कृति एवं खान-पान से जुड़े तरीको में भी बदलाव हो रहा है. यही कारण है कि जो टिश्यू पेपर आज से एक दशक पहले तक महानगरों के पांच सितारा होटल के शान थे या अमीरों के ढ़कोसले कहे जाते थे, आज जरूरत बन गया है. आज के समय में पांच सितारा होटल हो या कोई सामन्य सा समोसे का ठेला, टिश्यू पेपर का इस्तेमाल हर जगह हो रहा है.

गौरतलब है कि वजन में हल्का और कम लागत के कारण ये फ़ूड इंडस्ट्री के लिए अनिवार्य होता जा रहा है. यही कारण है कि व्यापर के रूप में टिश्यू उद्द्योग नए संभावनों को लेकर आया है. अगर आप भी कम पैसों में अच्छा मुनाफा कमाना चाहते हैं, तो टिश्यू उद्योग आपके लिए कमाई का सुनहरा साधन हो सकता है. चलिए आपको बताते हैं कि इस व्यापार को करने के लिए कि चीज़ों की आवश्यकता होती है.

क्षेत्र एवं संसाधनः

इस काम को करने के लिए आपको बहुत अधिक जगह की जरूरत नहीं है. एक या आधा - कट्ठा जमीन की जरूरत पड़ेगी. कच्चे माल के रूप में यहां आपको पेपर रोल की जरूरत पड़ेगी, जो मार्केट में आराम से प्रति किलो ग्राम कुछ 50 से 60 रूपये के बीच मिल जाएगी. आपको एक मशीन खरीदने की जरूरत पड़ेगी, जिसकी कीमत कुछ चार से पांच लाख रूपये पड़ेगी.

mostaco

यहां से मिलेगा मार्केटः

आपके उत्पाद के लिए मार्केट, हर जगह मौजूद है. छोटे से खोमचे वाले से लेकर के बड़े से बड़ा पांच सितारा होटल तक में आपके उत्पाद की भारी मांग है. इसलिए मार्केट के लिए आपको ज्यादा कष्ट उठाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.

इतना होगा मुनाफाः

इस विजनेस में कमाई की कोई सीमा नहीं है. आप बंपर मुनाफा मात्र कुछ ही दिनों में कमा सकते हैं. बता दें कि इस समय (32x32) के 50 पीस वाले टिश्यू पेपर की कीमत 40 से 60 रूपये के आसपास में मिल रही है. अगर एक अंदाजा लगाया जाए तो आप महीनें में आराम से 40 से 50 हज़ार रूपये कमा सकते हैं.

English Summary: tissue paper business can give you good profit rural industry

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News