Rural Industry

घर से मसालों का बिजनेस शुरू कर कमाएं मुनाफा

बिना मसालों के खाने में जयाके की कल्पना बिल्कुल नहीं की जा सकती है, क्योंकि यह मसाले ही आपके खाने के स्वाद को काफी अच्छी तरह से बढ़ा देते है. साथ ही यह उसें लजीज भी बना देते है. आज खान-पान के तेजी से बढ़ते इस दौर में मसालों की मांग में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. इसीलिए अगर आप कोई भी बिजनेस प्लान करने की सोच रहे है और अभी तक कोई आइडिया नहीं मिला तो आपके लिए मसाले का बिजनेस शुरू करना एक बेहतर ऑप्शन है. तो आइए हम आपको बताते है कि सूखे मसाले का बिजनेस आप किस तरीके से शुरू कर सकते है.

1. सबसे पहले आपको कमोडिटी का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको एक बड़ी सी जगह पर अच्छी दुकान की आवश्यकता होती है. अगर आपके पास आपकी खुद की दुकान है तो आप किराए से बच सकते है. आप दुकान लेने से पहले यह जरूर देख ले कि आपके आसपास कितनी दुकाने इस तरह अनाज कमोडिटी और अनाज की है. इससे आपको अपना प्रोडक्ट बेचना असान हो जाएगा.

2. होलसेल बाजार से खरीदें

दुकान को खोलने के लिए अपने एरिया के कमोडिटी के होलसेल बाजर से खरीद सकते है. आप यही नहीं बल्कि कमोडिटी इंपोर्टर से भी सूखे मसाले को खरीद सकते है. आपको इसकी ऑनलाइन जनकारी मिल जाती है. आप अपने एड्रेस पर आसानी से नाम नंबर पता करके इनको मांगा सकते है.

3. बना सकते है अपना ब्रांड

आप खुद की पैकेजिंग मशीन खरीदकर अपने ब्रांड के नाम के साथ कमोडिटी को बेच सकते है. आप किसी भी छोटे पैकेट में इलायची, बड़ी इलायची, सूखी मिर्च जैसे प्रोडक्ट आसानी से बेच सकते है. इसकी क्वालिटी अच्छी होने पर लंबे समय में आपको इसका काफी फायदा मिलता है. आप इनको रिटेल या फिर ऑनलाइन भी बेच सकते है.

4. इन्वेंसमेंट और कमाई

व्यापारियों की मानें तो आपप मसाले का बिजनिस  5 लाख रूपए की इंनव्स्टमेंट से शुरू किया जा सकता है. दरअसल आप 5 लाख रूपए के इन्वेसटमेंट को लगाकर आप हर महीने आसानी से 40 से 60 हजार रूपये महीना कमा सकते है. अगर आप ठीक तरह से मसाले बेचते है तो आपको हर दिन 1500 से 2000 रूपए की कमाई इससे प्राप्त हो सकती है.

5. लाइसेंस जरूरी

मसाले का बिजनिस शुरू करने के लिएआपको जीएसटी नंबर चाहिएहोगा. जीएसटी नबंर जीएसटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद आसानी से प्राप्त हो जाएगा. आप किराए की दुकान पर कारोबार करने के लिए रेन्ट एग्रीमेंट चाहिएहोगा. एमसीडी से भी आपको वह दुकान चलाने का लाइसेंसे लेना होगा. साथ ही एफएसएसएआईएस से भी लाइसेंस लेना होगा.

6. बेंचे ऑनलाइन प्रोडक्ट

ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से जुड़ने के लिए कारोबारी को रजिस्टर कराना होगा. कारोबारी को पैन, जीएसटी और बैंक अकाउंट की डिटेल देनी होगी. कंपनी सेलर के साथ एमओयू या करार भी करती है. इस करार के बाद आप वेबसाइट पर अपने प्रोडक्ट और साड़ी की फोटोग्राफ अपलोड कर सकते हैं.



English Summary: The spice business will now be able to start easily

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in