1. विविध

अपने पौधे के लिए कंटेनर ख़रीदते समय इन 3 बातों का रखे ध्यान

पानी को पॉट के तल पर न बैठने दें क्योंकि इससे जड़ें सड़ने लगती हैं. क्योंकि ज़्यादा मात्रा में पानी कीट और बीमारी के जोखिम को आमंत्रित करता है.

मोहम्मद समीर
garden
कंटेनर ख़रीदने का अंतिम निर्णय लेने से पहले इन 3 बिंदुओं पर विचार करें.

चाहे आप पौधा दोबारा गमले में लगा रहे हों या नया पौधा ले रहे होंपौधे के स्वास्थ्य, सेहत और अपने घर के सौंदर्य सजावट के लिए प्लांट कंटेनर ख़रीदने का अंतिम निर्णय लेने से पहले इन बिंदुओं पर विचार करें. प्लांट पॉट आपके पौधे का घर होता है और इसलिए यह बहुत आवश्यक है कि आप एक ऐसा कंटेनर चुने जो पौधे को स्वस्थ रूप से विकसित करने के लिए सबसे उपयुक्त हो. आप जानते हैं कि जब पौधा अपने वर्तमान बर्तन से बाहर आ जाए तो  यह पौधे को दोबारा लगाने का सही समय है. पॉट की ज़रूरत तब भी पड़ती है जब आपको एक नया पौधा मिलता है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह एक नया पौधा है या किसी पुराने पसंदीदा पौधे को दोबारा लगाने का समय हैसही कंटेनर या पॉट चुनते समय 3 बातों का ध्यान रखना चाहिए-

जल निकासी (Drainage):

क्या आप जानते हैं कि हाउसप्लांट्स के बेकार हो जाने का सबसे आम कारण अत्यधिक पानी देना हैइसलिए यह बेहद अहम है कि पौधे के अच्छे विकास के लिए आप एक ऐसा पॉट चुने जिसमें जल निकासी की व्यवस्था हो. जिससे अतिरिक्त पानी गमले में इकट्ठा न होने पाए और पौधा स्वस्थ रहे.

इसका मतलब यह नहीं है कि आप बिना जल निकासी छेद वाले कंटेनर में एक स्वस्थ पौधा नहीं उगा सकते हैंलेकिन छेद वाले कंटेनर में पौधे की देखभाल करना आसान हो जाता है. यहां ध्यान देने वाली महत्वपूर्ण बात यह है कि पानी को कंटेनर के तल पर न बैठने दें क्योंकि इससे जड़ें सड़ने लगती हैं. क्योंकि अत्यधिक मात्रा में पानी कीट और बीमारी के जोखिम को आमंत्रित करता है जो अंततः आपके पौधे को मार सकता है. इन सब से बचने के लिएआप अपने बर्तन को सिंक में ले जा सकते हैंइसे अच्छी तरह से भिगो दें और फिर कंटेनर को वापस अपनी जगह पर रखने से पहले अतिरिक्त पानी टपकने दें.

अगर आपके पास एक पसंदीदा कंटेनर है जिसमें जल निकासी छेद नहीं हैतो आप आसानी से एक ड्रिल के साथ एक छेद बना सकते हैं या एक नमी मीटर (moisture meter) बाज़ार से ख़रीद सकते हैं,  यह जानने के लिए कि पौधे के लिए कितना पानी ज़रूरी है.

कंटेनर का साइज़ (Size of Container):

कंटेनर खरीदते समय इसके साइज़ पर विचार करना  बेहद महत्वपूर्ण, क्योंकि पौधों को बढ़ने के लिए पर्याप्त जगह की आवश्यकता होती है. कंटेनर ख़रीदते समय लोग आम तौर पर पत्तियों के आकार पर विचार करते हैंहालांकिमार्था स्टीवर्ट का सुझाव है कि आपको पहले यह देखना चाहिए कि मिट्टी में क्या हो रहा है. पौधे की जड़ों को जगह की बहुत ज़रूरत होती है इसलिए पहले धीरे से पौधे को खींचकर देखें कि क्या जड़ें मिट्टी में घूम रही हैं या बढ़ने के लिए पर्याप्त जगह है.

एक बर्तन जो पौधे के लिए बहुत बड़ा है वो जड़ को सड़ने का कारण बन सकता है क्योंकि मिट्टी  बहुत अधिक होंगी और नमी में भिगोने के लिए पर्याप्त जड़ें नहीं होंगीइसलिए पानी के मिट्टी में बैठने की सबसे अधिक संभावना है. दूसरी ओरएक छोटे कंटेनर का उपयोग पौधों की वृद्धि को प्रतिबंधित कर सकता है इसलिए पौधों की अच्छी वृद्धि के लिए उनके मुताबिक़ पर्याप्त जगह का होना बहुत ज़रूरी है.

मैटेरियल (Material):

आपके प्लांट कंटेनर की सामग्री का प्रकार पौधे के स्वास्थ्य और आपके घर की सजावट के सौंदर्यशास्त्र को भी प्रभावित करता है. चुनने से पहले कंटेनर के वज़न और स्थायित्व पर भी विचार किया जाना चाहिए. टेराकोटा एक ठोस विकल्प है, वे सस्ते भी हैं और विभिन्न रंगों और आकारों में आते हैं. हालांकिअगर गिरने पर यह टूट जाते हैं और लगातार पानी देने से बाहर की तरफ नमक की पपड़ी विकसित हो सकती है. दूसरी ओरप्लास्टिक हल्का और सस्ता होता हैलेकिन इसे तोड़ना बहुत आसान होता है. चमकदार चीनी मिट्टी के बर्तन का भी यही हाल हैहालांकि वे बहुत ही सुंदर और आकर्षक लगते हैं.

ये भी पढ़ें: सिर्फ 30 दिनों में घर के कंटेनर में उगाए ये स्वादिष्ट सब्जियां, पढ़ें पूरी विधि  

अब जब आप नर्सरी पर कंटेनर ख़रीदने जाएं तो इन सभी बातों का ख़ास ध्यान रखें. आप अपने पौधे के लिए वही पॉट या कंटेनर चुनें जो उसके अच्छे विकास के लिए सबसे बढ़िया हो, जिसमें पौधा सड़ने न पाए और पूर्ण रूप से वृद्धि पा सके.

English Summary: how to buy a perfect plant container Published on: 24 November 2022, 12:46 IST

Like this article?

Hey! I am मोहम्मद समीर . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News