News

भारतीय टीम ने विदेशी सरजमीं पर लहराया अपना तिरंगा

team india

एक तरफ जैसे ही क्रिकेट वर्ल्ड कप का समापन हुआ, उसी के साथ बेसबॉल ओलंपिक ने अपनी रफ़्तार और तेज़ कर ली है. आपको बता दें कि आज श्रीलंका में चौहद वे वेस्ट एशिया कप (14th West Asia Cup) की ओपनिंग सेरेमनी के साथ ही, सभी बेसबॉल टीमों को संबोधित किया गया. इस कप की दावेदारी के लिए वेस्ट रीज़न की 6 टीमों का चुनाव अलग अलग स्तर पर हुआ जिसमें भारत समेत पाकिस्तान, बांगलादेश, ईरान, नेपाल और स्वयं श्रीलंका शामिल है.

इस कप में सभी टीमों को दो ग्रुप्स और बी में बांट दिया गया है. जिसमें भारत का पहला मुकाबला श्रीलंका के साथ होगा, वहीं टीम पाकिस्तान को ईरान सामना करना पड़ेगा. इस कप में 19 जुलाई को सेमी- फाईनल होगा तो वहीं  20 जुलाई को फाइनल मैच खेला जाएगा.

 बेसबॉल-ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने का तरीका:-

रीज़न-वाइस(वेस्ट-ईस्ट-नॉर्थ-साउथ) एशिया कप का आयोजन किया जा रहा है.

हर रीज़न की टॉप-2 टीमों को एशिया कप के लिए चुना जाएगा.

जहां एशिया कप में रीज़न-वाइस(वेस्ट-ईस्ट-नॉर्थ-साउथ) में टॉप-2 पर रहने वाली टीमों के बीच मैच का आयोजन किया जाएगा.

फिर एशिया कप में जीतने वाली टीम का मुकाबला बाकि महाद्वीपों(Continents) जैसे अमेरिका, एफ्रिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया आदि से आई टीमों के साथ वर्ल्ड बेसबॉल चैंपियनशिप में होगा और

इस वर्ल्ड बेसबॉल चैंपियनशिप में टॉप पर रहने वाली टीम ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर पाएंगी.

prakash

आखिर कैसे पहुंचेगा भारत बेसबॉल ओलंपिक में ?

टीम इंडिया के लिए ये एक बड़ा मौका है, बेसबॉल जैसे फेमस गेम में अच्छा प्रदर्शन करने का. अगर भारत इस वेस्ट एशिया कप में पहले या दूसरे स्थान पर रहता है तो वह एशिया कप में अपनी जगह आसानी से बना लेगा. लेकिन एशिया कप में भारत का पहले स्थान पर रहना जरूरी होगा. तभी वह वर्ल्ड बेसबॉल चैंपियनशिप में अच्छे पॉइंट से ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर सकेगा.

जानिए कितनी मज़बूत है टीम इंडिया ?

इस चैंपियनशिप और आगे आने वाली सभी चैंपियनशिप्स के लिए पूरे भारत से खिलाड़ियों का चयन किया गया है. इन खिलाड़ियों में लगभग सभी स्टेट के टॉप प्लेयर्स का चुनाव किया गया है. इन खिलाड़ियों का चुनाव साल 2018 में हुए इंदौर सीनियर नेशनल बेसबॉल कंपीटीशन  में अलग-अलग टीमों में से किया गया था. जिनको बाद में इसी साल 2019 में आंध्र प्रदेश ट्रेनिंग कैंप के लिए भेजा गया था. उस ट्रेंनिंग कैंप में से 23 खिलाड़ियों को उनके बेहतर प्रदर्शन के लिए चुना गया. जिन्हें एडवांस ट्रेनिंग के लिए सिंघु बॉर्डर स्थित राजीव गांधी स्पोर्ट्स कॉमप्लेक्स भेजा गया. श्रीलंका के लिए रवाना होने से पहले केंद्रीय राज्य मंत्री श्रीपाद येस्सो नाईक ने भी भारतीय टीम को बधाई दी और जीत की शुभकामनाओं के साथ विदा किया. बीते दिन 13 जुलाई की शाम 6:45 को टीम इंडिया श्रीलंका के लिए रवाना हुई.

टीम इंडिया के कोच श्री रविंद्र मलिक ने टीम की कप्तानी विकास शर्मा के हाथों में दी है. वैसे तो भारतीय टीम  में एक से बढ़कर एक नायाब हीरें हैं. लेकिन प्रकाश कुमार(राइट आउट) को गेम चेंजर के रुप में देखा जा रहा है. ऐसा इसलिए कि बीते वर्ष दिल्ली ओलंपिक में बेहद कमज़ोर टीम होने के बावजूद अपनी बेहतर बैटिंग, पिचिंग और कप्तानी के कारण ही प्रकाश कुमार ने टीम का अच्छे से नेतृत्व किया और गोल्ड जीताकर टीम को पहला स्थान दिलाया. इससे पहले भी प्रकाश ने जितनी भी चैंपियनशिप्स में भाग लिया है अपने अच्छे प्रदर्शन का लोहा सबसे मनवाया है.

union minister

इससे पहले प्रकाश कुमार को अपनी क्रिकेट और बैटिंग स्किल्स के दम-खम पर भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी सौरव गांगूली की क्रिकेट एकेडमी में शामिल होने का मौका मिला था. जिसे जॉइन करने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम में उन्हें अपनी जगह बनाने का मौका मिल जाता. लेकिन परिवार की खराब आर्थिक स्थिति के आगे उन्हें अपने घुटने टेकने पड़े. हालांकि अपने देश के लिए कुछ कर गुज़रने की उनकी भावना ने उन्हें फिर एक बार खड़ा होने का मौका दिया और आज वे पूरी टीम के साथ ओलंपिक में भारत के लिए गोल्ड लाने में जुट गए हैं



English Summary: world baseball championship Team India puts first step on the Olympics

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in