News

विश्व बैंक ने कहा बढ़ेगी भारत की विकास दर, मानसून व कृषि उत्पादन पर रहेगी निर्भरता

विश्व बैंक ने इस बार भारत की आर्थिक विकास दर बढ़ने का अनुमान लगाया है। इस बीच 7.5 प्रतिशत तक बढ़ोत्तरी का अनुमान है जबकि 2019 व 2020 तक यह बढ़कर 7.5 प्रतिशत तक पहुँचने के आसार है। विश्व बैंक ने साफ किया है कि भारत में नोटबंदी और जीएसटी से उबरकर विकास दर बढ़ जाएगी। बताते चलें कि यह दर पिछले सत्र में 6.7 थी जबकि हाल में जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार इस दर में वृद्धि बढ़ने की बात कही गई है।

इसमें कृषि क्षेत्र का भी योगदान उल्लेखनीय रहेगा क्योंकि सामान्य मानसून के चलते देश में कृषि उत्पादन बढ़ने से विकास दर पर काफी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। गौरतलब है कि इस बीच मौसम के पूर्वानुमान के मुताबिक देश में फिर से मानसून सामान्य रहने के आसार है जिससे एक बार फिर से कृषि उत्पादन बढ़ेगा। जाहिर है कि खाद्य उत्पादन से सकल उत्पादन काफी हद तक निर्भर करता है ऐसे में हमारे किसान भाइयों के लिए अच्छी खबर है कि मानसून की अवधि बढ़ने से उन्हें फायदा होगा साथ ही देश के सकल उत्पादन में वृद्धि होगी।



Share your comments