किसानों का क्या कसूर

देश में आज के समय काफी अराजकता की स्थिति बनी हुई है जिससे कई जगहों पर ख़ास कर भारत और पाकिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्रों में हालात तो और भयावह हो गए है पर ऐसे में दोनों देशों की सेना और सरकार मामलों को सुलझाने की कोशिशतो रही है|पर सीमावर्ती क्षेत्रों में में हो रहे किसानों और फसलों के होने वाले नुक्सान का खामियाजा कौन भरेगा |और किसानों को हो रहे मानसिक और आर्थिक जरूरतों की भरपाई कब तक हो पायगी |कृषि जागरण के माध्यम से देश कोई भी हो पर हम हमेशा किसानों के साथ है और किसानों के मुद्दों को हमेशा उठाने की कोशिश करेंगे क्योँकि पुरे विश्व को खिलाने वाला एकमात्र किसान ही है |

Comments