1. ख़बरें

खुशखबरी:मदर डेयरी के स्टोर पर इतने रुपये किलो मिलेगा टमाटर

किशन
किशन

आसमान छू रही टमाटर की कीमतें अगले सप्ताह तक काबू में आ जाएगी. केंद्रीय उपभोक्ता एवं खाद्य वितरण मामलों के विभाग में हुई अंतर-मंत्रालयी बैठक में बताया गया कि कर्नाटक और मध्य प्रदेश में टमाटर की नई फसल की आवक आना शुरू हो गई है. अब यही टमाटर मदर डेयरी अपने आउट्सेट्स पर 55 रूपये प्रति किलो की दर से बेचेगा. देश के कई हिस्सों में बाढ़ और बारिश से फसलों को नुकसान पहुंचा है, लेकिन आंध्र प्रदेश में बारिश से टमाटर की फसल को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है.इसीलिए वहां की सरकार से दिल्ली -एनसीआर में टमाटर की आपूर्ति बढ़ाने को कहा जाएगा. वर्तमान में दिल्ली -एनसीआर में टमाटर 60 से 80 रूपये प्रति किलो की दर से बिक रहे है, मंत्रालय के मुताबिक कर्नाटक और मध्य प्रदेश से जैसे ही टमाटर दिल्ली आने लगेगा, आपूर्ति सामान्य हो जाएगी. इसके बाद कीमतें सामान्य हो जाएगी.

तुरंत मिलेगी प्याज

मदर डेयरी ने कहा कि उसके स्टोर पर टमाटर 55 रूपये प्रति किलो से ज्यादा दाम पर नहीं बेचा जाएगा और टमाटर प्यूरी की भी आपूर्ति बनाई रखी जाएगी. इस दौरान नेफेड का कहना है कि उसके पास अब भी प्याज का पर्याप्त स्टॉक होता है और जो भी राज्य प्याज की मांग करेंगे, उनको तुरंत उपलब्ध करवाया जाएगा.

बारिश से टमाटर की फसल को नुकसान

बता दें कि टमाटर के खुदरा दाम 80 रूपये किलो के पार भी पहुंच गए है. टमाटर उत्पादक राज्यों में बाढ़ से फसल को नुकसान पहुंचने के कारण इसकी आपूर्ति में गिरावट आई है और बुधवार को भी दिल्ली में टमाटर के भाव 80 रूपये प्रति किलो के पार पहुंच गए है. करोबारियों की मानें पिछले सप्ताह की तुलना में अब प्याज की कीमतों में तेजी से नरमी आई है, और अब यह 60 रूपये प्रति किलो के आसपास बनी हुई है. दूसरी ओर कर्नाटक जैसे बड़े टमाटर उत्पादक राज्यों में बारिश से फसलों को नुकसान पहुंचा है,

सरकारी केंद्रों पर भी बढ़े दाम

केंद्र के सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में टमाटर की थोक कीमत 54 रूपये किलो तक हो गई. इसके अलावा कोलकाता में भी टमाटर का भी थोक भाव 60 रूपये किलो, मुंबई में 54 रूपये किलो और चेन्नई में 40 रूपये किलो के भाव पर पहुंच गया है. दरअसल केंद्र सरकार ने प्याज की कीमतों में उछाल को लेकर निर्यात प्रतिबंध सहित कई कदम को उठाया है

English Summary: Tomatoes will now be available at cheaper rates at Mother Dairy's stall

Like this article?

Hey! I am किशन. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News