1. ख़बरें

TMA ने नई दिल्ली में आयोजित की वार्षिक बैठक, विजन और मिशन पर डाला गया प्रकाश

Union Agriculture Minister Narendra Singh Tomar

ट्रैक्टर एंड मैकेनाइजेशन एसोसिएशन (TMA) एक उद्योग के नेतृत्व वाला, गैर-लाभकारी, कृषि मशीनीकरण संगठन है जो भारत के कृषि विकास में सक्रिय भूमिका निभाता है. ने आज (8 सितंबर 2021) को ले मेरिडियन, विंडसर पीएल, कनॉट प्लेस, नई दिल्ली में "कृषि मशीनीकरण-आत्मनिर्भर कृषि के लिए आवश्यक चालक" थीम के तहत अपनी वार्षिक आम बैठक आयोजित की.

TMA की वार्षिक बैठक की शुरूआत में मुख्य अतिथि, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्रैक्टर एंड मैकेनाइजेशन एसोसिएशन के विजन और मिशन पर प्रकाश डालते हुए वार्षिक आम बैठक की शुरुआत की. तत्पश्चात उन्होंने TMA टैगलाईन का एक वीडियो लॉन्च किया. इसके अलावा, इस मौके पर कृषि मंत्री तोमर ने वार्षिक रिपोर्ट भी रिलीज किया.

वार्षिक बैठक को संबोधित करते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि मशीनीकरण उद्योग निकाय TMA के सदस्यों को किफायती उपकरण और मशीनें बनाने के लिए कहा, ताकि छोटे और सीमांत किसान उन्हें खरीद सकें. इसके अलावा, उन्होंने TMA को संबोधित करते हुए उद्योग जगत से कृषि उपकरणों के निर्यात को बढ़ाने पर भी ध्यान देने को कहा.

तोमर ने सुझाव दिया कि एसोसिएशन और उसके सदस्यों को कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) के साथ साझेदारी करनी चाहिए और सीएसआर फंड का उपयोग यह सुनिश्चित करने के लिए करना चाहिए कि इन केंद्रों पर उपलब्ध सभी अनुसंधान और प्रौद्योगिकी छोटे और सीमांत किसानों तक पहुंचे.

उन्होंने कहा कि सरकार छोटे और सीमांत किसानों के जीवन को बेहतर बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रही है, उन्होंने कहा कि लगभग 80 प्रतिशत किसानों के पास खेती के लिए 2 हेक्टेयर से कम भूमि है. तोमर ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि केंद्र ने पीएम-किसान सहित किसानों की आय बढ़ाने के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं, जिसके तहत तीन समान किश्तों में सालाना 6,000 रुपये दिए जा रहे हैं.

सरकार और कस्टम हायरिंग सेंटर स्थापित करने का प्रयास कर रही है जहां से छोटे किसान कृषि उपकरण किराए पर ले सकते हैं. कृषि क्षेत्र में प्रौद्योगिकी के उपयोग को बढ़ाने का आह्वान करते हुए, मंत्री ने यह भी कहा, "कृषि उपकरणों के निर्यात को बड़े पैमाने पर बढ़ाने के भी प्रयास किए जाने चाहिए".

यह कहते हुए कि सरकार ने देशभर में सैकड़ों केवीके स्थापित किए हैं, तोमर ने कहा कि एसोसिएशन के सदस्यों को उन केवीके को अपनाना चाहिए जो कठिन क्षेत्रों में काम कर रहे हैं और जहां विकास की बड़ी संभावना है. मंत्री ने कहा कि किसान और उद्योग एक दूसरे के पूरक हैं और देश के विकास के लिए दोनों की जरूरत है.

ट्रैक्टर एंड मैकेनाइजेशन एसोसिएशन क्या है?

ट्रैक्टर एंड मैकेनाइजेशन एसोसिएशन (TMA) एक उद्योग के नेतृत्व वाला, गैर-लाभकारी, कृषि मशीनीकरण संगठन है जो भारत के कृषि विकास में सक्रिय भूमिका निभाता है. टीएमए की स्थापना 40 वर्ष पहले भारत में ट्रैक्टर निर्माताओं के लिए एक उद्योग संघ के रूप में की गई थी. कई वर्षों तक ट्रैक्टर निर्माण उद्योग कृषि उपकरणों के निर्माण के क्षेत्र में यह सेवारत रहा. इस तरह यह ट्रैक्टर एंड फार्म मैकेनाइजेशन एसोसिएशन बन गया.

TMA ट्रैक्टर और कृषि मशीनीकरण उद्योग के विकास और भारत में किसानों की जरूरतों को पूरा करने के लिए अनुकूल वातावरण बनाने और बनाए रखने के लिए काम करता है. वहीं भारत दुनिया में ट्रैक्टरों का सबसे बड़ा निर्माता और निर्यातक है.

English Summary: TMA's annual meeting in New Delhi, highlights the vision and mission

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News