News

गन्ना किसानों को भटकना पड़ रहा है पर्चियों के लिए

चीनी मिलों में पेराई शुरू होने के बाद भी गन्ना किसानों को पर्ची की समस्या का कोई हल नहीं मिल पा रहा है. मजबूरन किसानों को पर्चियों के लिए विभाग कार्यलयों के चक्कर काटने पड़ रहे हैं. प्रदेश के तकरीबन 85 हज़ार किसानों को अभी तक पर्चियां जारी नहीं की गईं हैं.  

किसानों को चीनी मिलें बंद होने की वजह से फसल के खेतों में खड़ा रहने की चिंता ने ही परेशान कर रखा है. इसके अलावा किसान पिछली फसल के भुगतान की समस्या का सामना कर रहे हैं. किसानों का कहना है कि मिलों में दलाल ज्यादा पैर पसार रहे है. उन्हें ही पर्ची जारी की जा रही है. भाकियू जिलाध्यक्ष विशन सिंह सिरोही, मांगेराम त्यागी, जगतवीर सिरोही ने  समिति के अधिकारीयों व कर्मचारियों पर आरोप लगाया है कि वह पर्चियों को लेकर गड़बड़ी कर रहे हैं. जिसकी वजह से किसानों को गन्ने की आपूर्ति में बहुत ज्यादा परेशानी उठानी पड़ रही है.

तो देखा आपने किस तरह किसानों को अपने हक के लिए लड़ना पड़ रहा है. किसानों से सम्बंधित ऐसी तमाम जानकारियों के लिए आप हमारी वेबसाइट पर क्लिक करें-

मनीशा शर्मा, कृषि जागरण



English Summary: Sugarcane farmers have to wander for pellets

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in