1. ख़बरें

खुशखबरी ! मोदी सरकार देगी बिना गारंटी के 10 लाख रुपए तक का लोन

अगर आप भी अपना छोटा सा व्यवसाय  शुरू करने का सोच रहे है पर पैसों की दिक्कत की वजह से नहीं शुरू कर पा रहे है तो आपके लिए बीजेपी सरकार द्वारा एक बड़ी खुशखबरी  है. जिसमें ये सरकार छोटे उद्यमियों को अपना  व्यवसाय शुरू करने के लिए मुद्रा योजना के तहत लोन देगी. इस योजना की ये खासियत है कि ये लोन आवेदकों को बिना गारंटी के मुहैया करवाया जायेगा. चलिए जानते है कि किस प्रकार आप इस प्रधानमंत्री मुद्रा योजना  के लिए आवेदन कर सकते है.

यह योजना बहुत पहले बनाई गई है. इसका  मुख्य मकसद छोटे कारोबारियों  की मदद करना और उन्हें आसानी से लोन उपलब्ध करवाना है. इसके साथ ही, सरकार इस योजना द्वारा ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोज़गार प्रदान  करवाना चाहती है. क्योंकि जितने ज्यादा उद्योग खुलेंगे उतने ज्यादा लोगों को रोज़गार के मौके मिलेंगे.

पहले छोटे कारोबारियों को बैंक से लोन लेने के लिए  कई तरह की दिक्कतें को सामना करना पड़ता था. जैसे कई तरह की औपचारिकताओं को पूरा करना पड़ता था. इसके साथ आपको गारंटी भी  देनी पड़ती थी. जिन लोगों के पास लोन लेने के लिए कोई गारंटी नहीं है तो उनका लोन पास नहीं हो पाता था. जिस वजह से वे लोन लेने के लिए अमान्य नहीं  थे. जिस कारणवश वे उद्यम शुरू नहीं कर पाते थे । जनता कि इस समस्या को देखते हुए  मोदी सरकार ने वर्ष 2015 में इस योजना को शुरू किया था. इस योजना का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) है.

सरकार ने इस योजना का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) रखा है. जो भी व्यक्ति अपना बिजनेस  शुरू करना चाहता है, वह इस योजना से लाभ प्राप्त कर सकता है. इस प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत आप 10 लाख रुपए तक का लोन लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इस योजना की  ब्याज दर अभी निश्चित नहीं की गयी हैं. सभी बैंक मुद्रा लोन के लिए अलग -अलग ब्याज दर वसूल करते हैं. आम तौर पर मुद्रा लोन कि न्यूनतम ब्याज दर 12 फीसदी तक रखी जाती  है.

English Summary: Pradhanmantri mudra yojna how to get loan without guarantee

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters