News

Pm kisan yojana : किस्त आने के बाद भी पैसा निकालने में हो रही है दिक्कत तो इस इस नंबर पर करें कॉल

कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन है. इस लॉकडाउन का सबसे ज्यादा प्रभाव मजदूर और किसानों और पर पड़ा है. इस स्थित से लोगों को उबारने के लिए केंद्र सरकार कई तरह की योजनाएं चला रही है. इन सभी योजनाओं में एक योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना भी है. जिसके तहत सरकार किसानों को साल में तीन बार दो-दो हजार रुपए की सहायता राशि देती है. अब इसमें सबसे बड़ी समस्या यह आ रही है कि बैंक खाते में यह राशि पहुंच जाने के बाद भी किसान अपना पैसा नहीं निकाल पा रहे हैं. यदि आप भी किसान है और आपको भी इस प्रकार की समस्या आ रही है तो आप निम्न नंबरों पर कॉल  कर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं.

आंध्र बैंक – 1800 425 1515

आईडीबीआई बैंक – 1800 200 1 9 47

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स – 1800 180 1235

बैंक ऑफ बड़ौदा – 1800 102 4455

बैंक ऑफ इंडिया – 1800 220 22 9

बैंक ऑफ महाराष्ट्र – 1800-233-4526 / 1800-102-2636

कैनरा बैंक – 1800 425 0018

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया – 1800 200 1 9 11

कारपोरेशन  बैंक – 1800 445 3555

देना  बैंक – 1800 233 6427

इलाहाबाद बैंक – 1800 226 061

इंडियन बैंक – 1800 4250 0000

इंडियन ओवरसीज बैंक – 1800 425 4445

पंजाब और सिंध बैंक – 1800 41 9 8300

पंजाब नेशनल बैंक – 1800 180 2222

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया – 1800 11 22 11

सिंडिकेट बैंक – 1800 425 5784

यूको बैंक – 1800 274 0123

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया – 1800 208 2244

यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया – 1800 345 0345

विजया बैंक : 1800 425 99 2 9

पीएम हेल्प डेस्क का किया गया गठन

यदि किसी किसान ने पीएम किसान योजना में आवेदन किया है और किसी कारणवश खाते में पैसा नहीं आता है तो ऐसे में किसानों की मदद के लिए सरकार ने नंबर जारी किया है और अलग से पीएम किसान हेल्प डेस्क (PM-Kisan help desk) का गठन किया है. ऐसे किसान निम्नलिखित नंबर पर कॉल कर सकते हैं या फिर अपनी समस्या मेल के माध्यम से भी बता सकते हैं.

पीएम किसान के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर :- 15526,1 0120-6025109 और 1800115526 (Email) – pmkisan-ict@gov.in



English Summary: Pm kisaan yojana: If you are having trouble in withdrawing money even after the installment, then call this number

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in