News

हरियाणा में विकसित हो रही लहसुन की नई किस्म, किसान होंगे मालामाल

दिल्ली से सटे हुए हरियाणा राज्य में अब लहसुन की नई किस्म काफी फायदेमंद साबित होने जा रही है, दरअसल करनाल के राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान विकास प्रतिष्ठान ने लहसुन की प्रजाति 404 को तैयार किया गया है. इसको किसान अपने खेतों में लगाकर काफी अच्छा फायदा कमा सकते है. इसके सहारे किसानों की किस्मत खुल जाएगी और इससे उनकी फसलों को काफी अच्छा फायदा होगा. ऐसा इसीलिए होगा क्योंकि इसके सहारे लहसुन की नई पैदावार काफी तेजी से विकसित होगा. बता दें कि लहसुन की इस नई किस्म का रंग बैंगनी है. पहले से ही इस राज्य में लहसुन की अधिक मांग है. अब नई किस्म के आ जाने के बाद यह मांग और बढ़ जाएगी जिसके बाद किसान इसको महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश की मंडियों में बेच सकते है. वहां के लोग इस तरह के लहसुन को कई तरह से इस्तेमाल करते है.

बैंगनी किस्म को लांच किया गया

अगर लहसुन की नई किस्म की बात करें तो हरियाणा के राष्ट्रीय बागवानी अनुसंधान विकास प्रतिष्ठान के डायरेक्टर बीके दुबे का कहना है कि हाल में लहसुन की इस नई बैंगनी किस्म को लांच कर दिया गया है. लहसुन के बीज को तैयार करने में प्रतिष्ठान पूरी तरह से जुट गया है.

GARLIC

उन्होंने जानकारी दी कि अगले साल और भी ज्यादा मात्रा में इसके बीजों को उपलब्ध करवाया जाएगा. अच्छी मात्रा के बीज उपलब्ध होने से किसान नई किस्म का काफी बेहतरीन तरीके से इस्तेमाल कर सकते है.

किसानों को होगा भारी मुनाफा

किसान इस नई किस्म के लहसुन को नवंबर के पहले और दूसरे सप्ताह तक इसके बीज की बुवाई कर सकते है. उन्होंने कहा कि प्रति हेक्टेयर किसानों को 165 से 170 क्विंटल लहसुन मिल जाएगा. लहसुन की फसल पूरी तरह से 165 दिनों के भीतर तैयार हो जाएगी बाद में किसान इसको बेच भी सकते है. हरियाणा के साथ ही पंजाब, राजस्थान के किसान इसको अपने खेतों के भीतर लगा सकते है. इससे भविष्य में उनको बंपर मुनाफा होने की काफी उम्मीदें है.



Share your comments