1. ख़बरें

किसान ही नहीं, बल्कि आप भी खुशी से झूम उठेंगे, जब पता लगेगा कि सरकार ने उठाया है ऐसा कदम

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Indian farmer

अब आप ही बताइए कि किसानों के बगैर कुछ हो सकता है. जवाब बिल्कुल सरल है, कुछ भी नहीं हो सकता है, इसलिए अगर उचित समय पर समुचित कदम किसानों के हित में नहीं उठाए गए, तो यकीनन हमारे किसान भाइयों को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है, जिसका खामियाजा परोक्ष रूप से हमें भी भुगतना पड़ सकता है, लिहाजा ऐसी किसी भी परिस्थिति का सामना हमें न करना पड़े इसके लिए हमारी सरकार को उचित कदम उठाना अनिवार्य है. इस बीच मध्य प्रदेश सरकार ने एक ऐसा ही कदम उठाया है. मध्यप्रदेश सरकार की शिवराज सिंह सरकार ने किसानों की समस्याओं को मद्देनजर रखते हुए एक ऐसा कदम उठाया है, जिसकी चौतरफा चर्चा हो रही है. लोग प्रदेश सरकार के इस कदम की सराहना कर रहे हैं.

यहां जानें पूरा माजरा

यहां हम आपको बताते चलें कि मध्यप्रदेश के करीब 24 लाख किसानों ने गेहूं को बेचने के लिए खुद को पोर्टल से पंजीकृत करवाया है. वहीं, गेहूं को बेचने के दौरान प्रदेश के किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े इसके लिए सरकार ने एक टोल फ्री नंबर जारी किया है. इस नंबर के माध्यम से किसान भाई अपनी समस्याओं का निवारण पा सकते हैं. सरकार ने यह कदम किसानों की समस्याओं को मद्देनजर रखते हुए उठाया है.

प्रदेश सरकार किसानों को एसएमएस भेजकर कब और कितने समय केंद्र पर आना है, इसकी जानकारी साझा कर रही है, ताकि किसान भाइयों को गेहूं की खरीद बिक्री के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े. वहीं, अगर किसानों को उपार्जन को लेकर किसी तरह की समस्या आती है, तो वे प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए इस 0755- 2551471 पर संपर्क कर अपनी समस्या का निदान पा सकते हैं.

कृषि मंत्री ने खुद की किसानों से अपील

इसके साथ ही मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने बीते दिनों फेसबुक लाइव करते हुए कहा था कि हमारी सरकार की  हमेशा से ही यह कोशिश रहती है कि हमारे किसी भी किसान को किसी समस्या से रूबरू न होना पड़े, मगर बावजूद इसके किसी भी किसान को समस्या होती है, तो वे 0755- 2551471 इस नंबर पर संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं. 

ऐसा है मध्यप्रदेश सरकार का लक्ष्य 

वहीं, मध्यप्रदेश सरकार ने 135 लाख मिट्रिक टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य रखा है. इसको मद्देनजर रखते हुए इस बार प्रदेश में  4,529 खरीद केंद्र स्थापित किया है.

English Summary: Madhy pardesh govt take a big decsion for farmer

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News