News

KCC Loan: अगर आपने Kisan Credit Card लोन लिया हैं तो फिलहाल नहीं चुकाना पड़ेगा कर्ज, सरकार ने लिया है बड़ा फैसला !

दुनिया भर में फैले लॉकडाउन की वजह से किसानों को कई तरह की दिक्कतों को सामना करना पड़ रहा है. जिस कारण किसानों को उत्पादों और उनके बदले में मिलने वाली राशि पर काफी असर पड़ रहा है. इस लॉकडाउन के चलते किसानों को वित्तीय नुकसान हो रहा है. इन समस्यायों को देखते हुए केंद्र सरकार ने उन्हें कर्ज के बकाए पर थोड़ी राहत प्रदान करने की कोशिश की है.

सरकार ने किसानों द्वारा फसलों के लिए बैंकों से लिए गए कम समय के कर्ज की ईएमआई (EMI) की पेमेंट पर फिलहाल 31 मई तक रोक लगा दी है. किसान अब  लोन की ईएमआई (EMI) लॉकडाउन  खुलने के बाद भर सकते हैं. इसके साथ ही केंद्र ने कहा हैं कि किसानों को लेट पेमेंट (Late Payment )  करने के लिए किसी भी प्रकार का कोई भी जुर्माना नहीं देना होगा.

इन दुकानों को मिली छूट

कृषि पर पड़ रहे लॉकडाउन के नकारात्मक प्रभाव  को देखते हुए केंद्र सरकार ने किसानों को खेती के लिए कुछ  जरूरी दुकानों को खोलने की छूट प्रदान की है.ताकि किसानों को खेती सम्बंधित जरूरी चीजों की कमी न पड़े जैसे कि  खाद की दुकान, कीटनाशक और बीज स्टोर आदि.

मिलेगा बिना गारंटी के 1.60 लाख का लोन

इसके साथ ही सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhanmantri Samman Nidhi Yojna) के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) मुहैया करवा रही हैं. इस कार्ड द्वारा किसानों को बैंक से डेढ़ लाख का लोन बिना गारंटी के मिल सकेगा. जिससे उन्हें इस आर्थिक समस्या से लड़ने में कुछ हद तक राहत मिलेगी. वैसे किसानों को 4 फीसद की सस्ती ब्याज दर (Interest Rate) करीब 3 लाख रुपए तक का लोन मिलता है. इस किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) के जरिए केंद्र सरकार ने किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए 1.60 लाख रुपए तक के लोन को बिना गारंटी के देने का फैसला लिया हैं.

ये खबर भी पढ़े: माटीर सृष्टी योजना बनेगी ग्रामीण अर्थव्यवस्था का मॉडल 11 लाख किसानों को मिलेगा केसीसी का लाभ



English Summary: KCC Loan: If you have taken a Kisan Credit Card loan, then you will not have to repay the loan at the moment, the government has taken this decision

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in