1. ख़बरें

बर्ड फ्लू: कितना सही है अंडा और चिकन खाना, क्या हो सकती है कोई बीमारी?

जैसा कि आपको मालूम ही है कि देश के कई हिस्सों में इस वक्त बर्ड फ्लू ने कहर मचा रखा है. कोरोना के बाद अब पंक्षियों से भी इंसानों को खतरा होने लगा है. सबसे अधिक हालात मध्य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और केरल आदि राज्यों में खराब है.

बर्ड फ्लू के आने के बाद लोगों के मन में बस यही सवाल है कि क्या इस समय चिकन या अंडे का सेवन सही है. इसे लेकर सोशल मीडिया में तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं. चलिए आपको बताते हैं कि इस समय एक्सपर्ट के मुताबिक चिकन या अंडा खाना आपके लिए सही है या गलत.

चिकन खाते वक्त सावधानी

विशेषज्ञों की माने तो इस समय लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है. किसी फार्म में न जाना अधिक फायदेमंद है. अंडा या चिकन खाते वक्त इस बात का ख्याल रखें कि वो अच्छी तरीके से कुक किया गया हो. बाहर से मीट लाने के बाद हाथों को अच्छे से धोना न भूलें.

बर्ड फ्लू से इंसानों को खतरा

अगर आपका पोल्ट्री का काम है तो आपको सावधान रहने की जरूरत है. ये बीमारी पंक्षियों से इंसानों में बहुत आराम से जा सकती है. सफाई का खास ध्यान दें. पोल्ट्री फार्म में जाने पर या पंक्षियों के संपर्क में आने पर अचानक सर्दी, जुकाम या खांसी आदि हो तो ये बर्ड फ्लू के लक्ष्ण हैं. कोरोना काल में इन लक्ष्णों पर ध्यान देना और भी जरूरी है. किसी भी तरह की समस्या पर डॉक्टरों से संपर्क करें. 

केंद्र सरकार ने जारी की एडवाइजरी

वैसे बता दें कि इस समय बर्ड फ्लू की दस्तक से पूरे भारत में डर का माहौल है. बात की गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सरकार ने सभी राज्यों के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है. अपने एडवाइजरी में राज्यों को अलर्ट करते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को पक्षियों की संदिग्ध मौत पर नजर रखने के लिए कहा है. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए प्रभावित राज्यों में कंट्रोल रूम बनाए गए हैं. अभी तक बर्ड फ्लू के 12 एपिकसेंटर सेंटर की पहचान की जा चुकी है.

English Summary: Is it safe to consume eggs or chicken during bird flu Heres what you should know

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News