1. ख़बरें

सुमंत ने जीता प्लांट साइंस में दुनिया का सबसे बड़ा स्कॉलरशिप, विश्व मंच पर चमका भारत

Degree

लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले मास्टर के एक छात्र ने प्लांट साइंस के इतिहास में अपना नाम दर्ज करा दिया है. सुमंत बिंदल नाम के इस छात्र को प्लांट साइंस जगत में रिसर्च के लिए 1.3 करोड़ का स्कॉलरशिप मिला है. बता दें कि प्लांट साइंस में रिसर्च के लिए इतनी बड़ी रक्म आज तक दुनिया के किसी छात्र को नहीं मिली है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सुमंत इस समय लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी से जेनेटिक्स और प्लांट ब्रीडिंग विषय पर पढ़ाई कर रहे हैं. उनके काम को देखते हुए पीएचडी के लिए उन्हें ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी की तरफ से ये स्कॉलरशिप ऑफर हुआ है. इससे पहले सुमंत टमाटर पर लगने वाले रोगों और उसके निवारण को लेकर काम कर चुके हैं. उनके इस काम को बड़े पैमाने पर सराहा गया था.

परिवार के सहयोग से पाया मुकाम

सुमंत का कहना है कि उन्हें जो भी कुछ मिला वो कड़ी मेहनत और परिवार के सहयोग के कारण मिला. इसके अलावा उनकी कामयाबी में मेंटर्स का भी योगदान रहा.

ये खबर भी पढ़े: इस राज्य में पीकेवीवीई की तीन योजनाओं में 149 करोड़ रुपए की मंजूरी, किसानों को मिलेगा लाभ

Books

भारतीय कृषि में लाना चाहतें हैं बदलाव

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सुमंत का कहना है कि वो कड़ी मेहनत के बदौलत भारतीय कृषि प्रणाली में बदलाव लाना चाहते हैं. उनका मानना है कि भारत का किसान खूब श्रम कर रहा है, लेकिन इसके बाद भी वो लगातार घाटा ही सह रहा है. आज किसानों की हालत देश में सबसे दयनीय है, क्योंकि कृषि को सदैव उपेक्षित किया गया है.

सुमंत ने यूनिवर्सिटी को गौरवान्वित किया

यूनिवर्सिटी के चांसलर अशोक मित्तल ने मीडिया को बताया कि सुमंत हमेशा से प्रतीभाशाली छात्र रहा है और विश्व मंच पर भारत को रिप्रजेंट करता रहा है. आज उसकी इस कामयाबी से बाकि के छात्रों को भी नई ऊर्जा मिली है. उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी देश को कृषि क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है.

English Summary: Indian Agriculture Student Wins highest Scholarship To PhD In Plant Sciences In Australia

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News