मोदी के कार्यकाल में भारत और इजराइल के बीच व्यापार में हुई बढ़ोतरी...

नई दिल्ली। भारत और इजराइल की मित्रता काफी पुरानी है और इसी मित्रता को निभाने के लिए आज इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू 6 दिन की भारतीय यात्रा पर दिल्ली पहुंचे हैं। दोनो देश एक दूसरे से अपने व्यापार को लंबे समय से बढ़ा रहे हैं, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में भारत और इजराइल के बीच व्यापार में बढ़ोतरी हुई है, खासकर भारत से इजराइल को कृषि आधारित वस्तुओं के निर्यात में करीब 29 प्रतिशत का इजाफा दर्ज किया गया है।

कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण यानि एपीडा (APEDA) के दायरे में आने वाले उत्पादों के निर्यात आंकड़ों पर नजर डालें तो नरेंद्र मोदी के आने से पहले इजराइल भारत से सालाना 215 करोड़ रुपए के उत्पादों का आयात करता था। वित्तवर्ष 2013-14 में इजराइल ने भारत से 215.97 करोड़ रुपए के कृषि उत्पादों का आयात किया था लेकिन पिछले साल मार्च में खत्म हुए वित्तवर्ष 2016-17 में यह आंकड़ा 277.60 करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। चालू वित्तवर्ष 2017-18 के पहले 7 महीने यानि अप्रैल से अक्टूबर 2017 के दौरान इजराइल को भारत 169.76 करोड़ रुपए के कृषि उत्पादों का निर्यात कर चुका है।

हालांकि भारत से निर्यात होने वाले कृषि उत्पादों के कुल निर्यात में इजराइल की यह हिस्सेदारी बहुत कम है लेकिन फिर भी इसमें लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इजराइल भारत से ज्यादातर बासमती चावल का आयात करता है। 

किसान भाइयों आप कृषि सबंधी जानकारी अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकतें हैं. कृषि जागरण का मोबाइल एप्प डाउनलोड करें और पाएं कृषि जागरण पत्रिका की सदस्यता बिलकुल मुफ्त...

https://goo.gl/hetcnu

Comments