News

विधानसभा चुनाव: आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी की आंधी तो ओडिशा में पटनायक की वापसी

देश में 17वीं लोकसभा के गठन के लिए सात चरणों में 11 अप्रैल से लेकर 19 मई तक सात चरणों में आम चुनाव के साथ ही आंध्र प्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरूणाचल प्रदेश राज्यों में भी विधानसभा के चुनाव संपन्न हुए है. इन  चारों राज्यों की मतगणना एक साथ ही हुई है. इन विधानसभा चुनावों में किस पार्टी ने बाजी मारी आइए हम आपको बताते है-

आंध्रप्रदेश विधानसभा चुनाव

आंध्र प्रदेश राज्य में 175 सीटों वाली अकेली विधानसभा में अकेले वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने प्रचंड बहुत के साथ राज्य में वापसी की है. राज्य की वर्तमान सत्तारूढ़ तेलुगु देशम पार्टी राज्य में कुल 22 सीटे जीत पाई और जनसेना पार्टी को मात्र 1 सीट आई है. राज्य में भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस यहां  से अपना खाता खोलने में भी सफल नहीं हो सकी है. राज्य में जगनमोहन रेड्डी की पार्टी को 152 सीटें रूझानों में मिली है जिसके साथ ही उसको काफी प्रचंड बहुमत मिला है.

लोकसभा में भी बाजी मारी

आंध्र प्रदेश राज्य में लोकसभा की कुल 25 सीटें है. वाईएसआर कांग्रेस लोकसभा की इन सभी 25 सीटों पर बढ़त बनाकर तेदेपा समेत अन्य पार्टियों का सूपड़ा साफ कर दिया है. चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक वाईएसआर जगन मोहन की पार्टी सभी लोकसभा सीटों पर आगे चल रही है. राज्य में भाजपा, कांग्रेस और टीडीपी की तस्वीर गायब है.

ओडिशा में पटनायक की वापसी

करीब 19 सालों से ओडिशा की सत्ता पर काबिज बीजू जनता दल की सरकार और राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक सरकार ने एक बार फिर से 2019 विधानसभा चुनावों में पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है. बीजू जनता दल ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है. 147 सदस्यों वाली विधानसभा में बीजू दल ने 112 सीटों पर जीत हासिल कर ली है . इस तरह से वह फिर बहुमत के साथ राज्य में वापसी कर चुके है. नवीन पटनायक लगातार पांचवी बार राज्य की कमान संभालेगें. राज्य में बीजेपी ने भी 23 सीटों के साथ काफी अच्छा प्रदर्शन किया है.

सिक्किम को 24 साल बाद मिलेगा नया सीएम

विधानसभा चुनाव 2019 में सिक्किम में 24 साल से एक ही पार्टी सत्ता में थी. लेकिन वह दौर कल चुनाव परिणामों के बाद खत्म हो गया है. दरअसल सत्ता पर काबिज सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट को 32 सीटों वाली विधानसभा में मात्र 15 सीटें हासिल हुई है. सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा ने 17 सीटों के साथ राज्य में बहुमत हासिल कर लिया है. यानि कि अंगूठे जितने छोटे आकार वाला राज्य सिक्किम को नया मुख्यमंत्री मिल जाएगा.

अरूणाचल प्रदेश में बीजेपी ने बहुमत पाया

अरूणाचल प्रदेश विधानसभा 2019 चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने अपने अकेले दम पर बहुमत हासिल कर लिया है. अरूणाचल प्रदेश में बीजेपी ने 35 सीटों पर अभी तक जीत हासिल कर ली है. देऱ रात तक आए चुनावी रूझानों और मतगणना में बीजेपी अपने दम पर राज्य में बहुमत हासिल करती हुई नजर आई है. फिलहाल राज्य मे पेमा खांडू सत्ता पर काबिज है और राज्य के मुख्यमंत्री है. बता दें कि राज्य में 11 अप्रैल को मतदान हुआ था.



Share your comments