News

ATM से कैश निकालना पड़ेगा मंहगा, इंटरचेंज चार्ज में हो सकता है इजाफ़ा

Interchange charge at ATM

आजकल हर छोटा-बड़ा व्यक्ति एटीएम (ATM) का उपयोग करता है. एटीएम के द्वारा हम किसी भी वक्त कहीं से भी कैश निकाल सकते हैं, लेकिन अब एटीएम इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए एक चिंता की खबर है. दरअसल देश की एटीएम ऑपरेटर्स एसोसिएशन (ATM Operators Association) ने रिज़र्व बैंक (Reserve Bank) को चिट्ठी लिखकर मांग की है कि एटीएम से कैश निकालने पर इंटरचेंज चार्ज को बढ़ाया जाए. बता दें कि लोग पहले से ही एटीएम की किल्लत से जूझ रहे हैं. ऐसे में यह लोगों के लिए दोहरी मार जैसा है.  

एटीएम ऑपरेटर्स को बिज़नेस में नुकसान

एटीएम ऑपरेटर्स का कहना है कि अगर एटीएम मशीनों से कैश निकालने की फीस में बढ़ोत्तरी नहीं की गई, तो उन्हें बिज़नेस में भारी नुकसान हो सकता है. एटीएम ऑपरेटर्स की इस मांग ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है, क्योंकि पहले से ही एटीएम की संख्या में कमी आ चुकी है.

ATM machine

RBI के नए नियमों का प्रभाव

एटीएम ऑपरेटर्स का कहना है कि जब से आरबीआई (RBI) ने नए सुरक्षा नियमों को लागू किया है. तब से एटीएम मशीनों का संचालन महंगा हो गया है. ऐसे में एटीएम से कैश निकालने के चार्ज में इजाफ़ा करना ज़रूरी है.

अभी 15 रुपये लगता है चार्ज

आरबीआई ने 5 फ्री एटीएम ट्रांजेक्शन के बाद प्रति निकासी पर 15 रुपये का चार्ज तय कर रखा है, लेकिन एटीएम ऑपरेटर्स के मुताबिक, यह फीस पर्याप्त नहीं है, इसलिए आरबीआई से मांग की गई है कि एटीएम से कैश निकालने के चार्ज में इजाफ़ा किया जाए. बता दें कि लगातार बढ़ते खर्च से एटीएम का संचालन महंगा हो गया है, साथ ही उनके विस्तार पर भी असर पड़ने लगा है.

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल आरबीआई ने एक कमिटी का गठन किया था, जो देश में एटीएम के नेटवर्क को बढ़ाने का काम कर रही है. बताया जा रहा है कि इस समिति ने भी एटीएम की इंटरचेंज फीस को बढ़ाने का सुझाव दिया है.

ये खबर भी पढ़ें: किसानों के लिए मक्के की बुवाई का सही समय, उन्नत किस्में लगाकर पाएं ज़्यादा उपज



English Summary: higher interchange charge will be applied on Withdrawing money from ATM

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in