News

इंडस्ट्री इन बिहार की मांग पर उद्योगपतियों को आमंत्रण, इस योजना से लाखों को मिलेगा रोजगार

लॉकडाउन के कारण बिहार में लाखों की संख्या में मजदूर बाकि राज्यों से वापस आ रहे हैं. ऐसे में उनके रोजगार की चिंता सरकार को सताने लगी है. यही कारण है कि बिहार उद्योग विभाग लगातार रोजगार सृजन के नए-नए तरीकों पर काम कर रहा है. इसी क्रम में अब सरकार ने आनन-फानन में देश के 24 उद्योगपतियों को पत्र लिखकर बिहार में निवेश करने को कहा है. अपनी अपील में सरकार ने राज्य में प्रदेश में फूड प्रोसेसिंग, कृषि यंत्र के उत्पादन, ऊर्जा, केमिकल, टेक्सटाइल आदि से जुड़े उद्योगों को आमंत्रित किया है.

इन्हें किया गया आमंत्रित

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार में निवेश करने के लिए नेस्ले इंडिया लिमिटेड, फिनोलेक्स इंडस्ट्रीज लिमिटेड, खादिम्स इंडिया लिमिटेड, आदि बड़े उद्योगपतियों को आमंत्रित किया गया है. इसी तरह जीआरएम ओवरसीज लिमिटेड, हिंदुस्तान फूड्स लिमिटेड, रिलैक्सो फुटवियर लिमिटेड और बाटा जैसी कंपनियों को भी निमंत्रण दिए गए हैं.

इस रोजगार योजना के तहत लोगों को मिलेगा काम

बिहार में मुख्यमंत्री कामगार उद्यमी सह रोजगार सृजन योजना के तहत लोगों को काम दिया जाएगा. इसका फायदा विशेष तौर पर उन श्रमिकों को होगा, जो किसी उद्योगिक कार्य को करने में सक्षम और अनुभवी होंगें.

इंडस्ट्री इन बिहार की उठी थी मांग

गौरतलब है कि अभी कुछ दिनों पहले ही सोशल मीडिया पर बिहार चुनाव को ध्यान में रखते हुए लोगों ने प्रदेश में इंडस्ट्री स्थापित करने एवं उद्योगों को बढ़ावा देने की मांग की थी. सोशल मीडिया पर बढ़ते हुए इस इस आंदोलन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में नए उद्योग लगाने का भरोसा दिया था.

(आपको हमारी खबर कैसी लगी? इस बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दें. इसी तरह अगर आप पशुपालन, किसानी, सरकारी योजनाओं आदि के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो वो भी बताएं. आपके हर संभव सवाल का जवाब कृषि जागरण देने की कोशिश करेगा)

ये खबर भी पढ़ें: Climate Change: बेमौसम बरसात से जून में 22 डिग्री तक पहुंचा तापमान, जायद किसानों के उड़े होश



English Summary: government of bihar invite corporates and companies to state people will get jobs under this scheme

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in