1. ख़बरें

किसानों के लिए सरकार ने लिए ये बड़े फैसले, लॉकडाउन से नहीं होगी कोई समस्या

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

देश में कोरोना वायरस की समस्या से निपटने के लिए 21 दिन का लॉकडाउन जारी है. इस बीच किसान कई समस्याओं का सामना कर रहा है. हालांकि, केंद्र और राज्य सरकार का पूरा प्रयास है कि इस मुश्किल घड़ी में किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या न हो. इसके लिए सरकार द्वारा लगातार अहम कदम उठाए जा रहे हैं. इस कड़ी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा एक अहम बैठक की गई. इस बैठक में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर समेत मंत्रालय के तमाम अधिकारियों ने हिस्सा लिया. बता दें कि यह बैठक किसानों की समस्याओं और उनके समाधान के लिए की गई है.

किसानों के लिए सक्रिय हुई सरकार

किसानों के लिए यह बैठक बहुत मायने रखती है, क्योंकि सरकार की इस बैठक में किसानों को राहत पहुंचाने के उपायों पर चर्चा की गई. बता दें कि किसानों की हर समस्या का सख्ती के साथ समाधान निकालने का आदेश जारी हुआ है. इसके साथ ही कंट्रोल रूम से नियमित निगरानी बनाए रखने का निर्देश जारी हुआ है.

बैठक में अहम विषयों पर चर्चा

  • किसानों के हित में जो फैसले किए गए हैं, उन पर अमल करने के साथ-साथ सामाजिक दूरी भी बनाए रखना जरूरी है.

  • किसानों को रबी फसलों की कटाई में किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए.

  • किसानों की उपज की ब्रिकी खेत के पास ही होनी चाहिए.

  • लॉकडाउन के दौरान कृषि उपज को ले जाने वाले वाहनों को छूट दी जाएगी.

  • किसानों की उपज को ले जाने के लिए राज्य और अंतरराज्यीय वाहन की सुविधा होनी चाहिए.

  • कृषि वस्तुओं का निर्यात प्रभावित नहीं होना चाहिए.

  • किसानों के लिए फसल कटाई और बुवाई संबंधी यंत्रों की आवाजाही को छूट मिले.

  • इस वक्त कृषि मशीनरी और उनके कलपुर्जों की दुकानों को खोलने की छूट दी गई.

  • इसके साथ ही हाईवे पर कृषि उपज वाहनों की मरम्मत करने के लिए गैरेज और पेट्रोल पंप भी खुले रहेंगे.

  • चाय बागानों पर लगभग 50 प्रतिशत कर्मचारी रखकर काम किया जाएगा.

  • आने वाले सीजन में फसलों की बुवाई में खाद और बीज की कमी नहीं होनी चाहिए.

किसानों को किसी समस्या का सामना न करना पड़े. इसके लिए सरकार लगातार संभव प्रयास कर रही है.  

ये खबर भी पढ़ें: Government Scheme: किसानों को खेतीबाड़ी के लिए मिली 62 हजार करोड़ रुपए की मदद, जानिए क्या है योजना

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News