News

पासवान ने संभाला उपभोक्ता मंत्रालय, तय किया गया 100 दिन का लक्ष्य

देश में नई सरकार का शपथग्रहण समारोह हो गया है और सभी मंत्रियों को उनके विभागों और मंत्रालयों का बंटवारा कर दिया गया है. देश में जब मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में लोक जनशाक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राजग सरकार के दूसरे कार्यकाल में शुक्रवार को फिर से एक बार खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री का कार्यभार संभाल लिया है. मंत्रालय का कार्यभार संभालते ही रामविलास पासवान ने कहा कि वह मंत्रालय की 100 दिन की कार्ययोजना के साथ उसको लागू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है और उस पर तेजी से कार्य किया जाएगा.

दलहन खरीदी का लक्ष्य

केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने पत्रकारों से वार्ता में जानकारी दी कि शुरूआती 100 दिनों के भीतर उनके मंत्रालय ने 16 लाख टन दाल और 50 हजार टन प्याज के भंडारण के लिए काम करने का लक्ष्य रखा गया है. इसी के साथ ई-वाणिज्य दिशा-निर्देशों, उपभोक्ता अदालतों, और बीआईएस प्रयोगशालाओं का उन्नयन करने इत्यादि को भी इस कार्ययोजना का हिस्सा बनाया गया है. इसके अलावा मंत्रालय  ने उपभोक्ता मामले विभाग में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के पांच पदों को भरने की भी पहचान कर लगी गई है. मोदी सरकार लागातर दूसरे प्रधानमंत्री बनने के जनादेश की प्रशंसा करते हुए पासवान ने बताया कि भारत दुनिया में एक शाक्तिशाली देश बनेगा.

राजग सरकार में अहम सहयोगी

रामविलास पासवान इससे पहले भी मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में भी खाद्य एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री ही थे तब भी सामने उपभोक्ता मामलों से जुड़े उतार -चढ़ाव वाले कार्य देखने को मिले थे. पासवान बिहार में राजगके एक बेहद ही अहम सहयोगी घटक है. इस बार फिर से मोदी सरकार में उनको मंत्री बनाया गया है. पासवान ने वार्ता में विपक्ष पर तंज भी कसा और कहा कि 2019 में प्रधानमंत्री पद के लिए कोई भी स्थान खाली नहीं था और विपक्ष को 2024 में नेता प्रतिपक्ष का पद पाने के लिए प्रयास करना चाहिए.



Share your comments