1. ख़बरें

महाराष्ट्र में किसान कर रहे टमाटर फेंको आन्दोलन, पढ़िए कृषि क्षेत्र से जुड़ी अन्य खबरें.

स्वाति राव
स्वाति राव
Tomato

Tomato

महाराष्ट्र के कई जिलों की मंडियों में टमाटर के दाम ना मिलने से परेशान किसानों ने टमाटर फेंको आन्दोलन शुरू किया है. गुस्साए किसानों ने प्रदेश की कई मंडियों में टमाटर फ़ेंककर व्यापारियों का विरोध किया. औरंगाबाद और नासिक सहित महाराष्ट्र के कई जिलों में किसानों को टमाटर (Tomato) 1 और 2 रुपये प्रति किलो की दर से बेचना पड़ रहा है.

व्यापारी 40 रुपये किलो बेच रहे हैं. इसके बावजूद सरकार बिचौलियों और ऐसे मुनाफाखोर व्यापारियों पर अंकुश लगाने का कोई काम नहीं कर रही. गुस्साए किसानों ने प्रदेश की कई मंडियों में टमाटर फेंक कर अपना विरोध (Tomato Protest) जताया. उन्होंने इसे टमाटर फेंको आंदोलन का नाम दिया. किसानों का कहना है कि लाखों की लागत के बाद भी उनको उचित दाम नहीं मिल रहा.

गुजराती फल लेकर दिल्ली रवाना हुई किसान रेल

गुजरात के बड़ोदरा से केले और चीकू लेकर किसान रेल दिल्ली के आदर्श नगर स्टेशन के लिए रवाना हुई . रेल मंत्रालय ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. रेलवे के मुताबिक गुजरात के बड़ोदरा से रविवार को किसान रेल 200.5 टन केला और 7.6 टन चीकू लेकर दिल्ली के लिए रवाना हुई थी जो सोमवार को दिल्ली पहुंच गयी है. उपज को नया बाजार मिलने से किसानों को लाभ मिलेगा. किसान रेल के जरिए परिवहन पर किसानों को भाड़े में 50 प्रतिशत की सब्सिडी भी मिल रही है.

हरियाणा में 25 सितंबर से शुरू होगी धान की खरीद

हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने जानकारी दी कि राज्य में धान की खरीदी  25 सितंबर से और बाजरा की खरीदी 01 अक्टूबर से शुरू होगी. सरकार के इस फैसले से किसान खुश हैं. किसानों ने फसल बेचने के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाया है.

खाद्य तेलों को सस्ता करने के लिए बनी नई योजना

खाद्य तेलों की लगातार बढ़ती कीमतों के बीच केंद्र सरकार अब तिलहन के उत्पादन को लेकर गंभीर है. राष्ट्रीय बीज निगम (एनएससी) चंबल के बीहड़ों में किसानों के सहयोग से हाईब्रिड बीज उगाने का काम करेगा. सरकार की हाईब्रिड बीज उगाने की यह योजना कामयाब रही तो मध्यप्रदेश के चंबल का इलाका तिलहन की खेती और खाद्य तेल उत्पादन का एक बड़ा हब बन सकता है.

किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत बना रही बांस की खेती

मध्य प्रदेश में इस साल 3 हजार से ज्यादा किसानों द्वारा 4443 हेक्टेयर क्षेत्र में बांस रोपण किया जा रहा है. इसके लिए इस वित्तीय वर्ष में करीब 10 करोड़ 60 लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा.

झारखंड में बनाए जाएंगे हर्बल पार्क

औषधीय खेती को बढ़ावा देने के लिए झारखण्ड सरकार जड़ी बूटी की खेती पर जोर दे रही है. जिसमें किसानों को बागवानी के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. इससे किसानों की आमदनी तो बढ़ेगी ही साथ ही ग्रामीण अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी.

मध्य प्रदेश के किसानों पर मौसम की मार

मध्य प्रदेश में मौसम की अनियमितता से सोयाबीन की फसल बहुत प्रभावित हुई है. बारिश की वजह से कई फसलें खराब होने की कगार पर हैं. भोपाल और आसपास के कई इलाकों में सोयाबीन की फसल 50 से 60% तक खराब हो चुकी है.

ISRI ने लॉन्च किया सोयाबीन ज्ञान ऐप

भारतीय सोयाबीन अनुसन्धान संस्थान ने सोयाबीन की खेती करने वाले किसानों के लिए सोयाबीन ज्ञान ऐप लॉन्च किया है जिसमें किसानों के लिए सोयाबीन की  खेती से संबंधित जानकारियां है. यह ऐप किसानों के लिए लाभप्रद है.

English Summary: farmers are throwing tomato movement in Maharashtra, read other news related to agriculture sector

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News