MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

मध्य प्रदेश के 3.87 लाख किसानों को मिले 1948 करोड़, जानें क्या है पूरा माजरा

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए खुशखबरी है. बता दें कि PFMS पोर्टल के जरिए किसानों के खाते में राशि को सीधा भेजा जा रहा है. पिछले कुछ दिनों से प्रदेश के कई किसानों के खाते में उनकी फसल का ऑनलाइन भुगतान किया गया है.

लोकेश निरवाल
production of wheat
production of wheat

किसानों की मदद के लिए सरकार हर एक संभव कोशिश करती रहती है. ताकि किसानों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े. इसी क्रम में मध्य प्रदेश के किसानों के लिए खुशखबरी है. बता दें कि राज्य में समर्थन मूल्य पर हो रहे गेहूं उपार्जन का भुगतान तेजी से जारी है. सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य में अब तक लगभग 3.87 लाख किसानों को 1948 करोड़ रुपये का ऑनलाइन ट्रांजेक्शन किया जा चुका है, जिससे प्रदेश के किसानों के बीच खुशी का माहौल बना हुआ है. 

किसानों के खाते में ऑनलाइन तरीके से भेजी राशि

इस विषय में प्रदेश के प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण फैज अहमद किदवई का कहना है, कि गुरुवार को राज्य में लगभग 32 लाख 24 हजार 204 मीट्रिक टन गेहूं का उत्पादन (production of wheat) किया गया था. इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि प्रदेश के किसानों के लिए भुगतान में पारदर्शिता के लिये PFMS पोर्टल के जरिए राशि को किसानों के खाते में सीधा भेजा जा रहा है. यह प्रक्रिया तेजी से अपना काम कर रही है. पिछले कुछ दिनों से प्रदेश के कई किसानों के खाते में ऑनलाइन भुगतान किया गया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जहां 28 अप्रैल को राज्य में लगभग 78 हजार 108 मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन हुआ. तो वहीं 10 हजार 530 किसानों को 307 करोड़ 3 लाख रूपये की राशि को किसानों के खाते में ऑनलाइन तरीके से फौरन भेज दी गई.

किसानों के लिए 500 करोड़ की राशि का लक्ष्य

साथ ही प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण फेज अहमद किदवई का यह भी कहना है, कि प्रदेश में किसान गेहूं की पैदावार तीव्र गति से कर रहे हैं. ये ही नहीं प्रदेश के किसानों की भलाई के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुरूप से ऑनलाइन तरीके से 500 करोड़ रुपए की राशि का भुगतान करने के लक्ष्य तय किया गया है.

इन सभी व्यवस्था के लिए खाद्य विभाग (food department) द्वारा पहली बार समर्थन मूल्य की राशि (amount of support) को सीधे किसानों के खाते में भेजने के लिए भारत सरकार के PFMS पोर्टल पर अपलोड करने के लिए किसानों की सभी जरूरी जानकारी जैसे कि आधार नंबर और बैंक खाता आदि की व्यवस्था पहले ही कर ली गई है. जिससे किसानों को उनकी फसल का सही दाम उनके खाते में आसानी से पहुंच सके.

किसानों को मिला उनकी फसल का सही दाम

इसी क्रम में बुधवार को लगभग 31 लाख 46 हजार 96 मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन प्राप्त होने पर करीब 3 लाख 77 हजार 278 किसानों को 1641 करोड़ 7 लाख रूपये ऑनलाइन तरीके से उनके खाते में भेज दिए गए. वहीं अगर हम बात करें 27 अप्रैल की तो उस दिन भी 2 लाख 28 हजार 825 मीट्रिक टन गेहूं का उपार्जन (wheat harvest) प्राप्त हुआ और ठीक उसी प्रकार से लगभग 29 हजार 681 किसानों को 543 करोड़ 7 लाख रूपये ऑनालाइन तरीके से उनके खाते में भेजे गए.

मंगलवार के दिन लगभग 29 लाख 17 हजार 271 मी. टन गेहूँ का उपार्जन के साथ 3 लाख 47 हजार 597 किसानों को 1098 करोड़ रूपए की राशि को किसानों के खाते में भेजा गया. 

ऐसी ही खेती से संबंधित जरूरी खबरें जानने के लिए जुड़ें रहे कृषि जागरण के हिंदी वेबसाइट से.

English Summary: Farmer News: 1948 crores received by 3.87 lakh farmers of Madhya Pradesh, know what is the whole matter Published on: 30 April 2022, 12:15 PM IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News