1. ख़बरें

McDonalds & KFC: कोरोना की वजह से क्या आपके पिज्ज़ा-बर्गर की ऑनलाइन डिलीवरी भी रुकेगी? जानें यहां

सुधा पाल
सुधा पाल

McDonalds या KFC के बारे में कौन नहीं जानता. आप सभी ने यहां से खाना ऑडर जरूर किया होगा, खासकर पिज्ज़ा-बर्गर या चिकन विंग्स. जहां अब हर जगह लॉकडाउन की वजह से लोग परेशान हैं कि उन्हें क्या चीज़ें मिलेंगी और क्या नहीं, ऐसे में पिज्ज़ा और बर्गर (pizza- burger) का ख्याल भी जरूर आया होगा. कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन से पूरा देश बंद है, लेकिन रोज़ाना की जरूरतों को पूरा करने के लिए, जैसे राशन, दूध, दवा आदि, सरकार ने उचित व्यवस्था कराई है. ऐसे में अगर आप यह जानना चाहते हैं कि क्या अब आप अपना पसंदीदा फ़ास्ट फूड यानी पिज्ज़ा-बर्गर McDonalds या KFC से ऑनलाइन मंगवा पाएंगे या नहीं, तो हम आपके इसी सवाल का जवाब देने जा रहे हैं.

पहले लॉकडाउन के दौरान, 31 मार्च तक बंद थी यह सर्विस

कोरोना वायरस के कहर से McDonalds और केएफ़सी (KFC) ने अपने रेस्टॉरेंट बंद कर रखे थे. आप वहां जाकर खाने का लुत्फ़ नहीं उठा सकते थे. दिल्ली के साथ ही उत्तर प्रदेश में रेस्टॉरेंट की सर्विस 31 मार्च तक बंद थी. मैकडॉनल्ड्स और KFC ने भी कोरोना पर रोक लगाने की कोशिश में रेस्टॉरेंट तो बंद किए थे लेकिन इनकी ऑनलाइन फूड डिलीवरी सर्विस चालू थी. इसका मतलब की आप ऑनलाइन अपना फ़ास्ट फूड (fast food) मंगवा सकते थे. ऐसा इसलिए क्योंकि इन ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म्स ने सावधानी बरतते हुए साफ़-सफाई के साथ डिलीवरी सर्विस जारी रखी थी.

स्वास्थ्य मंत्रालय की एडवाइज़री के बाद कंपनियों ने लिया फैसला

आपको बता दें कि देश की इन फास्टफूड कंपनियों, मैकडॉनल्ड्स और KFC ने स्वास्थ्य मंत्रालय (HEALTH MINISTRY) और राज्य सरकारों (state government) की एडवाइज़री के बाद ही इस तरह का फैसला लिया. फैसले के मुताबिक अब ये कंपनियां केवल ऑनलाइन फूड डिलीवरी (online food delivery) ही करेंगी, रेस्टॉरेंट बंद रखेंगी. प्रधानमंत्री के दूसरे लॉकडाउन (lockdown) के बाद जो कि तीन हफ़्ते यानी 21 दिनों का है, ऐसा लगता है कि इनके फैसले में कोई बदलाव नहीं आएगा. ऐसे में आप भी अपना burger/pizza online order कर सकते हैं.

English Summary: coronavirus update mcdonalds and kfc will provide only online food delivery service

Like this article?

Hey! I am सुधा पाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News