MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

अमिताभ बच्चन ने चुकाया किसानों का कर्ज

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में बने रहते हैं. कभी अपनी फिल्मों के वजह से, तो कभी किसी बयान को लेकर, तो कभी अपने मज़ाकिया ट्वीट से लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचते हैं. लेकिन इस बार बिग बी किसी और वजह से चर्चाओं में बने हुए हैं.

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में बने रहते हैं. कभी अपनी फिल्मों के वजह से,  तो कभी किसी बयान को लेकर,  तो कभी अपने मज़ाकिया ट्वीट से लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचते हैं. लेकिन इस बार बिग बी किसी और वजह से चर्चाओं में बने हुए हैं.

देश के किसानों की स्थिति जग ज़ाहिर है. वे अपनी मांगों व सरकार की नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते रहते हैं. इसलिए अभिनेता अमिताभ बच्चन ने किसानों की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं. वह उत्तर प्रदेश के 1398 किसानों का कर्ज चुकाने के लिए सहायता राशि देंगे. गौरतलब है कि इससे पहले अमिताभ ने महाराष्ट्र के 350  किसानों के कर्ज का भुगतान किया था. साथ ही राज्य के 44 शहीद सैनिकों के परिजनों को भी आर्थिक मदद दी थी.

26 नवंबर को इन किसानों से मिलेंगे बिग बी


मीडिया में आई ख़बरों के मुताबिक, अभिताभ बच्चन ने अपने गृह राज्य उ0प्र के लगभग 32 जिलों के 1398 किसानों के 4.05 करोड़ का कर्ज अभी तक चुका दिया है. बैंक ऑफ इंडिया के साथ वन टाइम सेटलमेंट के तहत इन किसानों का कर्ज चुकाया गया है. इनमें से 70 किसानों को अमिताभ बच्चन ने 26 नवंबर को मुंबई आमंत्रित किया है. जहाँ अमिताभ बच्चन खुद अपने हाथों से किसानों को कर्ज चुकता किए गए पत्र सौपेंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसानों को ये पत्र अमिताभ बच्चन के दफ्तर में सौंपे जाएंगे.  सबसे खास बात यह है कि इन किसानों के मुंबई आने-जाने की व्यवस्था भी अमिताभ बच्चन की तरफ से की गई है. इसके लिए रेल का एक डिब्बा बुक किया गया है.

विवेक राय,  कृषि जागरण

English Summary: Amitabh Bachchan repaid farmers' debt Published on: 23 November 2018, 03:37 PM IST

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News