1. ख़बरें

चीन में शुरू हुई बागवानी की अंतराष्ट्रीय प्रदर्शनी 'होर्टी चाइना, 2018'

बहुप्रतीक्षित बागबानी एक्सपो 'होर्टी चाइना, 2018' बुधवार को शुरू हो गया. तीन दिन तक चलने वाला यह एक्सपो शंघाई के नेशनल कन्वेंशन एंड एक्जीबिशन सेंटर में आयोजित किया जा रहा है. चाइना हरित सप्ताह के अंतर्गत चलने वाले इस 'होर्टी चाइना' का मकसद चीन को फल, सब्जियाँ और पौधों के अंतर्राष्ट्रीय बागवानी बाजार से जोड़ना है.

मौजूदा वक्त में 'बागवानी' चीन का सबसे तेजी से बढ़ने वाला क्षेत्र है. इस क्षेत्र में उत्पादन, गुणवत्ता और शुद्ध सब्जियों की उपलब्धता बढ़ाने के लिए ज्यादा जानकारी की जरुरत है. इसको ध्यान में रखते हुए यह अंतर्राष्ट्रीय आयोजन रखा गया है.

होर्टी चाइना के मुख्य आकर्षण

इसकी शुरुआत पिछले वर्ष की गई थी. हालाँकि इस साल इसको ज्यादा तवज्जो मिल रही है. पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार इसमें विदेशी प्रतिभागियों की संख्या में भी इजाफा हुआ है. जापान, इटली, ताइवान, फ्रांस और स्कॉटलैंड जैसे देश इसमें बढ़चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. भारत ने भी इसमें अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है.

कार्यक्रम की कुछ खासियतों पर एक नजर:

- 41,000 लोगों ने की हरित चाइना वीक में शिरकत

- 440 कपनियां ले रही हैं हिस्सा

- 75 फीसदी से अधिक लोगों ने बिताए दो दिन

- 88.3 फीसदी लोगों ने पिछले वर्ष के आयोजन पर जताई संतुष्टि

कृषि जागरण की दमदार उपस्थिति

कृषि जागरण, कृषि पत्रकारिता के अंतर्राष्ट्रीय फलक पर तेजी से स्थापित हो रहा है. इसकी एक बानगी वैश्विक स्तर पर होने वाले कृषि प्रदर्शनी और मेलों में उसकी मौजूदगी के रूप में देखी जा सकती है. 'होर्टी  चाइना' में भी कृषि जागरण ने मीडिया समुदाय के स्तर पर प्रभावी भूमिका निभाई है. कार्यक्रम स्थल पर एकमात्र भारतीय मीडिया होना इस बात का पुख्ता सबूत है कि कृषि जागरण खेती और उससे संबंधित सभी वैश्विक गतिविधियों में शामिल रहता है. कृषि जागरण की टीम का नेतृत्व मुख्य संपादक 'एम सी डोमिनिक' कर रहे हैं.

होर्टी चाइना 2018 की ताजा अपडेट और जानकारी पाने के लिए हमसे जुड़े रहें.

कृषि जागरण डेस्क, दिल्ली

English Summary: International exhibition of 'Horti China, 2018' of the gardening started in China

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News