News

Alert! लखनऊ समेत इस जिले में टिड्डियों से बचाव का अलर्ट जारी, कृषि अधिकारियों ने दिया ये सुझाव

Locust

टिड्डी दल से फसल सुरक्षा को लेकर किसानों में काफी डर बना हुआ है. किसान इस चिंता में हैं कि कहीं टिड्डियों का अगला हमला उन की फसल पर न हो. हाल ही मिले अपडेट के मुताबिक टिड्डियों के प्रकोप से बचने के लिए उत्तर प्रदेश के लखनऊ में अलर्ट जारी कर दिया गया है. समेत अन्य लखनऊ के साथ ही रिपोर्ट्स के मुताबिक जनपद बस्ती, अयोध्या और सिद्धार्थनगर तक टिड्डियों का झुण्ड पहुंच चुका है. ऐसे में उम्मीद यह भी की जा रही है कि टिड्डियों का दल जनपद राजधानी लखनऊ के साथ गोंडा भी हमला कर सकता है.

ऐसे में किसानों की फसल सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कृषि विभाग ने यह अलर्ट जारी किया है और किसानों को सचेत रहने को कहा गया है. इस समय किसानों की कई मुख्य दलहनी फसलें जैसे- उड़द और मूंग खेतों में लगायी गयी हैं. इसके साथ ही खेतों में सब्जियों की बुवाई भी की गयी है. उत्तर प्रदेश में गन्ना की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है. ऐसे में यह मुसीबत गन्ना किसान के लिए भी बढ़ जाती है.

tidi

कृषि अधिकारियों की मानें तो उन्होंने किसानों को यह सुझाव दिया है कि वे टिड्डी दल से निपटने के लिए कई तरह के उपाय अपने स्तर पर कर सकते हैं. वे टिड्डियों को भगाने के लिए थालियां, ढोल-नगाडे़ और उस हर चीज का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे तेज आवाज निकले। साथ ही किसान रासायनिक कीटनाशक क्लोरो पायरीफॉस, मैलाथियाॅन 5% धूल की 25 किग्रा मात्रा का छिड़काव या क्विनालफाॅस 25 प्रति0 ई0सी की 1.5 ली0 मात्रा को 500 से 600 लीटर पानी मे घोलकर प्रति हक्टेयर की दर से फसल पर छिड़काव कर सकते हैं.

Locust control के लिए किसान नीम का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं. यह काफी कारगर साबित हुआ है.  इसके लिए किसान नीम के तेल की 40 ml मात्रा को 10 ग्राम कपडे़ धोने के पाउडर के साथ पानी में मिलाकर फसलों पर छिड़काव करें जिससे टिड्डियाँ उन्हें अपना शिकार न बना पाएं.

ये खबर भी पढ़े: Ring-pit Method: रिंग-पिट तकनीक से गन्ना बुवाई में है 4 गुना ज्यादा उत्पादन, जानें खेती करने का तरीका



English Summary: Alert and instructions issued by agricultural officials against locust attack in this district including Lucknow

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in