1. ख़बरें

Good News: इन 7 राज्य के किसानों को Free में मिलेगा बीज, सरकार ने किया ऐलान

Prime Minister Narendra Modi

देशभर में पेट्रोल और डीजल की कीमत में जिस तरह से आग लगी हुई है. वैसे ही इन दिनों खाने के तेल की कीमत में भी आग लगी हुई है. इसी के केंद्र सरकार ने किसानों को फ्री में तिलहन बीज उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है. मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, सरकार को अपनी इस पहल से आशा है कि तिलहन का घरेलू उत्पादन बढ़ेगा और देश की खाद्य तेल पर आत्म निर्भरता बढ़ेगी.

फ्री में दिया जाएगा तिलहन के बीज (Oilseeds seeds will be given for free)

दरअसल केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narender Singh Tomar)  ने ऐलान किया है कि देश के तकरीबन एक तिहाई जिलों में जुलाई महीने से शुरू होने वाली खरीफ (गर्मी) की फसलों के लिए तिलहन के बीज फ्री में दिया जाएगा. किसानों को उच्च गुणवत्ता (high-quality) के हजारों पैकेट दिए जाएंगे. गौरतलब है कि इस योजना के मद्देनजर केद्र सरकार ने राज्यों के बीच अप्रैल माह में चर्चा की थी.   

फ्री में तिलहन के बीज किसे मिलेगा? (Who will get free oilseed seeds?)

खबरों के मुताबिक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, गुजरात, कर्नाटक, तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के 41 जिलों में अंतर-फसल के लिए 76.03 करोड़ रुपये की लागत से सोयाबीन के बीज बांटे जाएंगे. वही, इससे तकरीबन 1.47 लाख हेक्टेयर भूमि में तिलहन की बुवाई होगी.

8 राज्यों में बांटे जाएंगे सोयाबीन के बीज (Soybean seeds will be distributed in 8 states)

इसके अलावा, 104 करोड़ रुपये की लागत के साथ सोयाबीन के बीज आठ राज्यों में बांटे जाएंगे. जिसमें मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तेलंगाना, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और गुजरात के 73 जिले शामिल हैं. वहीं, इन राज्यों में 3,90,000 हेक्टेयर का रकबा शामिल होगा.

मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, कर्नाटक, तेलंगाना छत्तीसगढ़, गुजरात, उत्तर प्रदेश और बिहार के 90 जिलों में करीब 8.16 लाख बीज के मिनी-किट बांटे जाएंगे. यहां खेती का रकबा 10.06 लाख हेक्टेयर होगा.

English Summary: Agriculture News: Farmers will get seeds for free, central government announced

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News