MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. मशीनरी

भारत में खेती को आधुनिक बनाने वाले टॉप 5 कृषि यंत्र, जो लागत को कम कर बढ़ाते हैं मुनाफा

भारत में कृषि को आधुनिक बनाने के लिए कुछ उपकरणों का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिससे किसान खेत में होने वाले कार्यों के लिए कड़ी मेहनत करने से बच जाते हैं और खेती में आने वाली लागत को भी कम करने में मदद करते हैं. यदि आप भी खेती को सरल और लाभदायक बनाने के लिए कृषि यंत्रों को खरीदना चाहते हैं, तो यह आर्टिकल आपके लिए मददगार साबित हो सकता है.

मोहित नागर
खेती को आधुनिक बनाते है ये टॉप 5 कृषि यंत्र (प्रतीकात्मक तस्वीर)
खेती को आधुनिक बनाते है ये टॉप 5 कृषि यंत्र (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारत में अधिकतर किसानों के साथ आय की समस्या देखने को मिलती है. आय कम होने की वजह से किसान मन लगा कर खेती नहीं कर पाते है और कभी - कभी इससे उन्हें काफी नुक्सान भी हो जाता है. यदि किसान अपनी आय बढ़ाना चाहते हैं, तो उन्हें पहले खेती में आने वाली लागत को कम करना चाहिए. खेती में आने वाली लागत को कम करने के लिए आवश्यक है कि फसल के उत्पादन के खर्च को कम किया जाए. इसे कम करने के लिए किसानों को परंपरागत कृषि यंत्रों को छोड़कर आधुनिक कृषि यंत्रों का सहारा लेना चाहिए. आधुनिक कृषि यंत्रों की मदद से किसान कम समय और कम मेहनत में खेती के काम निपटा सकते हैं.

भारत में खेती के काम को आसान बनाने के लिए वैसे तो बहुत से यंत्र है, लेकिन आज हम कृषि जागरण के इस आर्टिकल में आपको खेती में काम आने वाले 5 सबसे बेहतरीन कृषि यंत्रों की जानकारी देने जा रहे हैं.

  1. रोटावेटर

खेती को आसान और सरल बनाने के लिए जुताई के काम आने वाले यंत्रों में रोटावेटर का सबसे अधिक उपयोग किया जाता है. किसानों का इसे अधिक इस्तेमाल में लेने का मुख्य वजह यह है कि इससे 1 या 2 बार की जुताई में ही खेत पूरी तरह फसल उगाने के लिए तैयार हो जाता है. आपको बता दें, रोटावेटर को ट्रैक्टर से जोड़कर चलाया जाता है. इस यंत्र से मक्का, गेहूं और गन्ना आदि जैसी फसलों की अवशेष को हटाने के काम आता साथ ही इसे मिश्रण के लिए उपयुक्त माना जाता है. इसका उपयोग करके आप खेती की लागत, समय और लेबर आदि की बचत आसानी से कर सकते हैं. इस यंत्र को किसी भी प्रकार की मिट्टी की जुताई के लिए प्रयोग में लिया जा सकता है और अन्य यंत्रों की अपेक्षा यह लगभग 15 से 35 प्रतिशत तक ईंधन की बचत करता है.

  1. सीड ड्रिल कम फर्टिलाइजर मशीन

किसान खेती में कम समय और कम मेहनत के लिए सीड ड्रिल कम फर्टिलाइजर मशीन का भी उपयोग कर सकते हैं. इस कृषि यंत्र की मदद से किसान एक साथ कई कतारों में बीजों की बुवाई बेहद कम टाइम में कर सकते हैं. यह मशीन खेत की मिट्टी में बीज को अंदर गहराई तक पहुंचाकर बो सकती है. इस मशीन की मदद से खेतों में बीज और उर्वरक को एक साथ निश्चित अनुपात में बोया जा सकता है. आपको बता दें, सीड ड्रिल कम फर्टिलाइजर मशीन को 35 HP से अधिक ट्रैक्टर के साथ बेहतर तरीके से चलाया जा सकता है.

  1. स्प्रेयर पंप

फसलों में कीट, बीमारियों और खरपतवार को रोकने के लिए कई तरह के कीटनाशकों का उपयोग किया जाता है. स्प्रेयर पंप एक ऐसा बेहतरीन कृषि यंत्र है, जिसकी मदद से किसान लिक्विड खाद और कीटनाशक का छिड़काव खेतों में काफी आसानी से कर सकते हैं. यह यंत्र खेती में लेबर और समय की बचत करते हैं, क्योंकि इस स्प्रेयर पंप से किसान खुद ही स्प्रे कर सकते हैं. आपको बता दें, कई प्रकार के स्प्रेयर पंप अलग अलग इस्तेमाल के लिए मार्केट में उपलब्ध है और कुछ ऐसे भी है जिन्हें ट्रैक्टर से जोड़कर चलाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें : 4000 सीसी और 100 HP पावर में देश का सबसे शक्तिशाली ट्रैक्टर, जानें इसकी खासियते और कीमत

  1. क्रॉप कटर मशीन

किसानों के लिए खेती को आसान और सरल बनाने के लिए क्रॉप कटर मशीन भी बेहतरीन उपकरण साबित हो रहा है. जब फसलों की कटाई की जाती है, तो कई लेबरों की आवश्यकता होती है. यदि अकेला किसान इसे करें तो इसमें उसे काफी ज्यादा वक्त लग जाता है. इस मशीन की मदद से गेहूं, चावल, गन्ना, सोयाबीन, मक्का, ज्वार, हरा चारा और घास काटने जैसे अनेकों काम काफी आसानी से किए जा सकते हैं. यह आधुनिक उपकरण मिट्टी की सतह से केवल 2 से 3 सेंटीमीटर ऊपर फसलों को काफी आसानी से काट सकती हैं.

इसके अलावा इसमें लगे वीडर अटैचमेंट्स, खरपतवार को हटाने का काम करते हैं. इस यंत्र को डीजल से चलाया जाता है और यह मशीन घास ट्रिमिंग, लॉन ट्रिमिंग, खेत की निराई-गुड़ाई भी कर सकती है. इस यंत्र का उपयोग खुद से छोटे और बड़े किसान फसल की कटाई करने में कर सकते हैं.

  1. ड्रिप सिंचाई किट

खेती में कम समय और कम मेहनत के लिए मार्केट में फुली ऑटोमेटिक ड्रिप सिंचाई किट भी उपलब्ध है. इस किट में फील्ड इंस्टॉलेशन और संचालन के लिए सभी आवश्यक पार्ट शामिल हैं. किसानों को केवल इस सिंगल किट से इलेक्ट्रॉनिक वॉटर टाइमर, फीडर लाइन पाइप, मेनलाइन कोन कनेक्टर, टैप एडाप्टर, होल्डिंग स्टिक, ड्रिप होल पंचर, होल प्लग, मेनलाइन स्ट्रेट कनेक्टर, फ्लेक्सनेट पाइप, ड्रिपलाइन, इंस्टॉलेशन मैन्युअल समेत कई चीजें मिल जाती हैं. आप इसकी मदद से खेतों की आवश्यकता के अनुसार पानी का शेड्यूल सेट कर सकते हैं.

English Summary: top 5 agricultural machines modernize farming India increase profits by reducing costs Published on: 03 December 2023, 06:00 PM IST

Like this article?

Hey! I am मोहित नागर. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News