1. मशीनरी

फसल कटाई की सबसे सस्ती मशीन, किसानों के श्रम और समय दोनों की होगी अच्छी बचत

आज हम किसान भाईयों को ऐसे कृषि यंत्रों की जानकारी देने वाले हैं, जिनकी मदद से वह खरीफ फसलों की कटाई आसानी से कर सकते हैं...

निशा थापा
paddy cutting machine
paddy cutting machine

खरीफ सीजन की फसलें लगभग पककर तैयार हो चुकी हैं. खरीफ सीजन की मुख्य फसल धान है. ऐसे में आज हम आपको धान काटने की मशीन के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे समय व श्रम, दोनों की बचत होगी. इसे अगली फसल के लिए उपयोग में भी ला सकते हैं.

कंबाइंड हार्वेस्टर मशीन (Combined Harvester Machine)

कंबाइंड हार्वेस्टर मशीन फसल कटाई के लिए एक बेहतरीन विकल्प है. इस मशीन से धान की कटाई बेहतरीन तरीके से की जा सकती है. इसके अलावा चना, सूरजमुखी, सरसों, सोयाबीन व गेहूं की कटाई के साथ कुटाई भी की जा सकती है, इसके साथ ही खेत की सफाई के लिए इसे उपयोग में लाया जा सकता है. कंबाइंड हार्वेस्टर मशीन से वक्त व श्रम दोनों की बचत होती है. खास बात यह कि ये आड़ी-तिरछी फसलों को एक साथ काट देती है.

छोटू मशीन (Shorty Machine)

छोटी फसल जैसे दाल, चना, सोयाबीन की कटाई के लिए अक्सर किसानों को समस्या का सामना करना पड़ता है. फसल की ऊंचाई में कम होने से फसल पकड़ में नहीं आ पाती है, जिसके कारण किसानों को नुकसान भी झेलना पड़ता है, लेकिन अब किसानों को इसकी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है. इस समस्या से निपटारे के लिए बाजार में छोटू मशीन (Shorty Machine) मौजूद है, जिसे रीपर मशीन के नाम से भी जाना जाता है.

यह भी पढ़ें: प्रीमियम ट्रैक्टर के लिए GS Caltex का प्रीमियम वेट ब्रेक ऑयल, (UTTO) रखे आपके ट्रैक्टर को शानदार

खास बात यह कि छोटू मशीन फुट छोटे पौधों को भी आसानी से काट देती है. इस मशीन में 50 CC वाला 4 स्ट्रोक इंजन होता है, तथा इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले लगी होती है, जिससे काम करने की जानकारी मिलती है. यह मशीन आपको बाजार में मात्र 30 हजार रुपए में मिल जाएगी, वो भी एक साल की वारंटी के साथ.

English Summary: The cheapest machine for harvesting crops, both labor and time of farmers will be saved well Published on: 30 September 2022, 11:11 IST

Like this article?

Hey! I am निशा थापा . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News