सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल के ख़रीद पर पाए 50 फ़ीसद सब्सिडी

इस युग में कौन नहीं चाहता की उसका समय और पैसा दोनो बचे. ऐसे आज की हमारी किसानी भी उसी रफ्तार में मार्डन होती जा रही है. ऐसे किसानी के सभी उपकरणों में एक है सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन। यह एक बुआई की मशीन है. यह मशीन बीज को उचित गहराई और उचित दूरी पर बीज को बोती है. यह खेतो में बीज को पक्षियों से बचता है. इसकी सबसे बड़ी खास बात तो ये है इसके उपयोग करने से श्रम के साथ साथ समय को भी बाचती है.

सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन का महत्त्व

आज की आधुनिक युग में खेती करने के लिए एक से बढ़कर एक यंत्र मार्किट में उपलब्ध है. उन्ही सब यंत्रो में सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन की एक अलग ही उपयोगिता है जिसके आ जाने से किसानो को काम करने में बहुत आसानी होने लगी.

पहले जब किसान परम्परागत खेती करते थे किसान बीज को हाथ से बुआई करते थे लेकिन अब की आधुनिक कृषि में सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन आ जाने से किसानो को अब आसानी होनी लगी.

1. सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन की सहायता से बीज को एक साथ कई कतारों में बो सकते है.

2. इससे बीज मिट्टी के अंदर गहराई तक बो सकते है.

3. इसकी सहायता से किसान बीज को एक उचित दूरी पर बो सकता है.

4. इससे किसान बीज और उर्बरक एक साथ ही एक अनुपात में बो सकता है

5. जहाँ किसानो पहले बहुत से मजदूर रखकर काम को करवाना पड़ता था अब इसकी सयहता से किसान अपने लागत को भी बचा लेता है

6. सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन के सहायता से किसानो के श्रम भी बचता है.

7. जब बीज एक मिट्टी में एक गहराई में बोये जाते है तो बीज के ख़राब भी नहीं होता है साथ ही इसका जमाव भी अच्छा होता है

8. उर्वरक और बीज के साथ उचित अनुपात में एक ही जगह होने से वह पौधों की जड़ो के माध्यम से सही पोषक तत्व सही मात्रा में पौधों में पहुंच जाता है.

9. इसका उपयोग भी सभी जगह किया जा सकता है.

10. इस मशीन का सबसे बड़ा फायदा तो यह है की इसके सहायता से सीधे फसल के कटाई के बाद बुआई कर सकते है इसके उदाहण के लिए जैसे धान की कटाई हो चुकी है आप इसकी सहायता से आप खेत की जुताई किये ही आप सीधे पक्ति बीज की बुआई कर सकते है जिससे आप समय लागत और श्रम तीनो ही बच जाते है.

सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल की उपयोगिता

वर्तमान समय में खेती में समय पर कार्य करने लिए मशीन अपनी अहम् भूमिका निभाती है. परंपरागत कृषि में प्रोयग किये जाने वाले हाथ से वाले यंत्र या जानवरो से चलने वाले यंत्र ने कृषि के विकास में तो सघनता तो आई थी लेकिन जब से कृषि में मशीनों का प्रयोग होने लगा तब से खेती के विकास में और ही तेजी आ गई. यही उद्येश्य भी मशीन बनाने वाली कंपनियों का भी है की किसानो को उपयुक्त कृषि यंत्र समय पर कार्य करने हेतु उपलब्ध करियर जिससे खेती के विकास में तेजी से काम करे.

अगर हम खेती की मशीनों की बात कर है तो इसमें ऐसा हो ही नहीं सकता की हम सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल मशीन की बात न करे. यह एक टैक्टर चलित यंत्र है. जिसकी सहायता से हम खेत में बीजो की बुआई करते है. इस मशीन से बुआई करने से फसल सघनता में वृद्धि, कम समय में अधिक क्षेत्र में बुवाई, क्षेत्र श्रमिक उत्पादन में वृद्धि, फसल उत्पादकता व लाभ में वृद्धि, उपलब्ध श्रमिकों का उचित उपयोग होता है जिससे किसान की लागत, श्रम और समय तीनो बचता है.

फर्टी-कम-सीड ड्रिल से बुआई करने पर 15 से 20% बीज बचत 10 से 15% उत्पादकता में वृद्धि, 15 से 20% उर्वरकों का कम उपयोग, 20 से 30% तक समय की बचत तथा श्रमिकों का उपयोग 15 से 20% तक कम होता है.

इसकी सहायता से मूंगफली, लहसुन, गेहूं, जीरा, तिल, सरसों, चना, बाजरा, राजमा, फेसियोलिस मुंगो, नाइजर मकई, सोयाबीन, एरंडी, बिनौला, अरहर आदि फसल की बुआई कर सकते है.

सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल की क़ीमत

कृषि के कोई यंत्र की क़ीमत उसकी आधुनिकता और उसकी तकनिकी के हिसाब से कम्पनियाँ निर्धारित करती है. वैसे तो भारतीय बाजारों  सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल की शुरूआत 15,000 से शुरू होती है.

भारतीय बाजारों में सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल कुछ कंनियों के नाम शक्तिमान, सोनालिका, महिंद्रा, स्वैन, जग्गी, जॉन डेर, ऑक्स, मास्कीओ, ओसमेष, आदि बाजार में उपलब्ध है.

सब्सिडी

यदि कोई किसान नया कृषि यन्त्र खरीदना चाहता है तो सबसे पहले यह सुनिश्चित करे कि उसको किस कंपनी का कृषि यंत्र खरीदना है. उसके बाद किसान उस कृषि यंत्र पर अनुदान की जानकारी के लिए अपने जिले या ब्लाकस्तर के कृषि कार्यालय पर संपर्क करें. वहां से अनुदान की पूरी प्रक्रिया को समझें. इसके अलावा किसान चाहे तो वह जिस कंपनी का यंत्र खरीद रहा है तो उस कंम्पनी के डीलर से सम्पर्क करके इसके विषय में जानकारी ले सकता है. आपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल के निर्धारित मूल्य का 50 प्रतिशत अथवा अधिकतम रू. 15000 जो भी कम हो उसकी सब्सिडी दे रही है।

अगर हम मध्यप्रदेश की बात करे तो वहां सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल पर निम्न प्रकार से सब्सिडी उपलब्ध है :

यदि किसान सामान्य वर्ग के महिला है तो उसे 50 फ़ीसदी सब्सिडी और यदि सामान्य वर्ग का पुरूष किसान है तो उसे 40 फ़ीसदी की सब्सिडी मिलती है इसके अलावा एससी/एसटी  वर्ग के  महिला/पुरूष के लिए 50 फ़ीसदी की सब्सिडी उपलब्द्ध है.

कहां से प्राप्त करे यंत्र

यदि किसान कोई भी कंपनी का यंत्र खरीदना चाहता है तो वह घबराये नहीं इसके लिए वह उस कंपनी के डीलर से संपर्क करे या तो फिर ऑनलाइन कम्पनीयो जैसे (mahedra.com, sonalika.com) के माध्यम से भी खरीद सकते हैं.

किससे करें संपर्क

किसान जो उपकरण खरीदना चाहता है और वह उस उपकरण के बारे में जानकारी लेना चाहता है तो वह सीधे उस कंपनी के डीलर से संपर्क करे या ऑनलाइन भी कंपनी की साइट पर जाकर प्रोडक्ट के विषय में जानकारी ले सकता है. यदि किसान साईट पर दी गई जानकारी से संतुष्ट न हो तो वह साईट पर दिए हुए फोन नम्बर पर कॉल करके जानकरी ले सकता है.

प्रभाकर मिश्र, कृषि जागरण

Comments