Stories

15 Dec, 2018
By prashant
2018 Sahitya Akademi Award: Chitra Mudgal

2018 साहित्य अकादमी पुरस्कार : चित्रा मुद्गल

चित्रा मुद्गल, यह वह नाम है जिसे किसी पहचान की आवश्यकता नहीं है। साहित्य जगत ही नहीं अपितु साहित्य की दुनिया के इतर भी चित्रा मुद्गल का नाम बड़े सम्मान से लिया जाता है। चित्रा मुद्गल आधुनिक हिंदी साहित्यकारों में एक जाना-माना नाम है। उनके साहित्य में एक ओ…

READ MORE
03 Dec, 2018
By prashant
Suron Wizard: Kishore Kumar

सुरों के जादूगर : किशोर कुमार - Girish Pandey

यह कब जन्में कब मरें, यह जानकारी तो आपको हर जगह मिल जाएगी। परंतु यह किसलिए जिए यह जानकारी आपको हम बताते हैं। किशोर कुमार जब तक जिए सिर्फ संगीत के लिए जिए। उनके पास मानों धुनों का ख़ज़ाना था।

READ MORE
12 Nov, 2018
By prashant
"Life is the right affair ... do not die ..."

" ज़िंदगी का सही लुत्फ़ उठाना है न...तो मौत से खेलो "

सिनेमा का हमारे जीवन पर हमेशा से प्रभाव रहा है और सिनेमा न चाहते हुए भी हमारे जीवन में बहुत गहराई से रच बस गया है और इसकी एक बड़ी वजह है कुछ ऐसे कलाकार जिनकी अदाकारी और प्रतिभा से भारतीय सिनेमा जगत गौरवान्वित हुआ।ऐसे ही एक कलाकार हैं-"कादर खान"।जिनका आज 8…

READ MORE
13 Oct, 2018
By prashant
Bharat Ratna A.P.J. Abdul Kalam

भारत रत्न ए.पी.जे. अब्दुल कलाम - गिरीश

भारत के मिसाइलमैन के नाम से मशहूर हुए भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को दुनिया से रूख्सत हुए तीन साल हो गए हैं। वर्ष 2015 में (27 जुलाई) ही के दिन भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) शिलौंग में 'रहने योग्य ग्रह' विषय पर एक व्याख्यान के दौरान द…

READ MORE
11 Sep, 2018
By prashant
Complaint in the court of Bhangaram Devi of Deities

देवी-देवताओं की भंगाराम देवी की अदालत में शिकायत - Chander Mohan

इंसानों को अदालतों में सजा सुनाते तो आपने सुना है, लेकिन देवी-देवताओं की अदालत लगने, सजा सुनाने या फिर दोषमुक्त कर दिए जाने की आदिम संस्कृति का नजारा केशकाल में नजर आया।

READ MORE
03 Sep, 2018
By prashant
Why can Shri Krishna Janmashtami and youth learn?

श्री कृष्णा जन्माष्टमी क्यों और युवा क्या सीख सकते हैं? - चंद्र मोहन

पूरा देश श्री कृष्ण जन्माष्टमी के उत्सव में डूबा हुआ है, हर साल की तरह इस बार भी पूरे देश में कान्हा का जन्म बहुत ही धूम-धाम से मनाया जा रहा है. मगर क्या आपने ये बात सोची है कि ये उत्सव कभी-कभी दो दिन क्यों मनाया जाता है ? जबकि हर साल की तरह इस बार भी …

READ MORE
27 May, 2018
By Sameer Tiwari
Asali swarg

मनुष्य को काम के समय काम और आराम के समय आराम करना चाहिए - अनुराग

गोपाल बहुत आलसी व्यक्ति था। घरवाले भी उसकी इस आदत से परेशान थे। वह हमेशा से ही चाहता था कि उसे एक ऐसा जीवन मिले, जिसमें वह दिनभर सोए और जो चीज चाहे उसे बिस्तर में ही मुहैया हो जाए। लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ। एक दिन उसकी मृत्यु हो गई। मृत्यु के बाद वह स्वर्ग …

READ MORE
22 May, 2018
By Sameer Tiwari
Naman Sankh Sudarak, who ended the practice of Sati ...

सती प्रथा को समाप्त करने वाले समाज सुधारक को नमन...

भारतीय सामाजिक और धार्मिक पुनर्जागरण के क्षेत्र में राजा राममोहन राय का विशिष्ट स्थान है। वे ब्रह् सामाज के संस्थापक, भारतीय भाषा प्रेस के प्रवर्तक,जनजागरण और सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणोता तथा बंगाल में नवजागरण युग के पितामाह थे। उन्होने भारतीय स्वतंत्…

READ MORE
24 Apr, 2018
By Sameer Tiwari
Ramdhari singh Dinkar

क्रन्तिकारी काव्य और साहित्य के ज़रिये आज भी अमर है ‘दिनकर’

रामधारी सिंह दिनकर साहित्य के क्षेत्र का वो जाना माना नाम जिन्होने अपने समय से आगे की सोच रखी आज उनकी 44 वी पुण्यतिथि है। अगर रामधारी सिंह को साहित्य कि दुनिया का 'ऐंग्री यंग मैन' कहा जाए तो कुछ गलत नही होगा क्योंकि उनकी कवितांए वीर रस से ओत-प्रोत होती थ…

READ MORE
13 Apr, 2018
By Sameer Tiwari
saadat hasan manto

मैं कहानीकार नहीं, जेबकतरा हूँ - सआदत हसन मंटो

मेरी जिंदगी में तीन बड़ी घटनाएँ घटी हैं। पहली मेरे जन्म की। दूसरी मेरी शादी की और तीसरी मेरे कहानीकार बन जाने की।

READ MORE