1. लाइफ स्टाइल

पढ़िए आम से बनने वाले शीतल पेय बनाने की विधि

आम - नीम्बू-सोडा शर्बत :

सामग्री-  १ आम (ताज़ा व रसीला), २-३ चम्मच चीनी (बारीक पिसि हुई), २ चम्मच नीम्बू का रस, २ नीम्बू (स्लाइस के रूप मे), नमक (स्वादानुसार), ४-५ पुदीने के पत्ते, बर्फ़ के छोटे टुकडे, चिल्ड प्लेन सोडा (कार्बोनेटेड वाटर)

बर्तन चाहिये-  गिलास, मडलर, चम्मच, चाकू, चोपबोर्ड, बलेन्डर आदि।

विधि-

  • नींबू के बारीक कटे हुए स्लाइस व पुदीने के पत्ते १ गिलास में डालें ।
  • १ आम को छोटे टुकडों में काटे व ब्लेन्डर कि मदद से असमान मिश्रण तैयार करें।
  • अब इस मिश्रण को गिलास में डालें व मडलर कि सहायता से ८-१० बार दबाव डालें ताकि पुदीने के पत्तों क रस इस मिश्रण में मिल जायें ।
  • अब इस पूरे मिश्रण में चीनी पाउडर व स्वादानुसार नमक मिलायें व बर्फ़ के छोटे-छोटे टुकडे डालें।
  • अब गिलास को प्लेन सोडा (कार्बोनेटेड वाटर) से भर दें व अच्छे से मिलायें। शर्बत तैयार है।
  • शर्बत को पुदीने के पत्तों व नीम्बू स्लाइस से सजाएं।
  • शर्बत को ठंडा परोसें।

कच्चे आम खीरे से बना पेय:

सामग्री१ खीरा, १ कच्चा आम, २ चम्मच चीनी, नमक (स्वादनुसार), ४-५ पत्ते पुदीना, २ नीम्बू (रस), आधा चम्मच जीरा पाउडर (भुना हुआ), २ कप पानी

विधि-

  • कच्चे आम को छीलें व उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • एक मिक्सर जार लें और उसमें आम के टुकड़ों के साथ खीरा, काला नमक, भुने हुए जीरे का पाउडर, पानी,चीनी व पुदीने के पत्ते डालकर उसका पेस्ट बना लें।
  • अब इस मिश्रण को छलनी की सहायता से छान लें व इसमें नींबू का रस निचोड़ लें।
  • इस शर्बत को गिलास में डलकर बर्फ़ के कुछ टुकड़े मिलाएँ और ठंडा परोसें।

आम से बनी लस्सी:

सामग्री-   कप दही, दो आम (प्यूरीड), नमक और चीनी (स्वादानुसार), पानी (आवश्यकतानुसार)

विधि-

  • सामग्री में दिये गये सभी पदार्थों को दही में मिला कर मिश्रण तैयार कर लें।
  • इसे ब्लैंडर में डालकर इसका पेस्ट बना लें व आवश्यकतानुसार पानी मिलायें।
  • एक गिलास में डालकर फ्रिज में रख दें।
  • ठंडा होने पर परोसें।

 

नमिता सोनी, कुशल राज, पूजा सांगवान, रेनू यादव एवं ऐनी खन्ना

कृषि महाविद्यालय, हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, हिसार

English Summary: Read the method of making soft drinks made from mango

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News