1. लाइफ स्टाइल

मानसिक स्वास्थ्य बनाने में लाभकारी हैं ये जड़ी-बूटियां, दूर होगी बेचैनी

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

कई लोगों को मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होती हैं, जो समय के साथ बढ़कर मानसिक बीमारी (Mental Illness) बन जाती हैं. इसके लक्षण हमेशा तनाव पैदा करते हैं, साथ ही काम करने की क्षमता कम कर देते हैं. आगर आप इस समस्या से परेशान हैं, तो कई ऐसी चीजें हैं, जो मानसिक स्वास्थ्य को ठीक करने में मदद कर सकती हैं. इसमें कुछ जड़ी-बूटियां भी शामिल हैं, जो कि मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत कारगर साबित होती हैं. आइए आपको इन जड़ी-बूटियों के बारे में बताते हैं.

कैमोमाइल (Chamomile)

यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है, जो बेचैन और असहज महसूस होने वाली भावना को सही करती है. इसके फूल तनाव को दूर करने में मदद करते हैं. कैमोमाइल चाय शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करती है, जो तनाव और चिंता को दूर करती है. ध्यान रहे कि कुछ लोगों को कैमोमाइल से एलर्जी भी होती है, इसलिए इसका उपयोग करने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

ये खबर भी पढ़ेगले की खराश को मात्र 5 मिनट में दूर करेगा ये घरेलू उपचार

लैवेंडर (Lavender)

यह जड़ी-बूटी भी तनाव को दूर करनें मदद करती है. इसके तेल में पुष्प घास की सुगंध होती है, जो मन और शरीर को आराम देती है. इसकी मदद से चिंता और पैनिक अटैक को कम किया जाता है. इसके तेल में टेरपेनस लिनालूल और लिनालिल एसीटेट नामक रसायन होता है, जो मस्तिष्क में केमिकल रिसेप्टर्स पर एक शांत प्रभाव डालता है. आप इसकी चाय का सेवन कर सकते हैं. इसके अलावा तेल की कुछ बूंदों को पानी में डाल स्नान कर सकते हैं.

अश्वगंधा (Ashwagandha)

यह तनाव और बेचैनी वाले लक्षणों को कम करने में मदद करती है. कई अध्ययन में बताया गया है कि पशुओं में अश्वगंधा के प्रयोग से तनाव के स्तर में भी उल्लेखनीय कमी आई है. कुछ मनुष्यों पर जांच करने से पता चला है कि इसके सेवन से तनाव और चिंता की समस्या काफी हद तक कम हुई है. इसका सेवन टेबलेट या तरल रूप से कर सकते हैं.

ये खबर भी पढ़ेलिवर को स्वस्थ रखना है तो ज़रूर पिएं ये 5 जूस

English Summary: Knowledge of relieving stress from herbs

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News