Lifestyle

सेहत को स्वस्थ बनाए रखने के लिए थोड़ा रोना है ज़रूरी, जानें इसके पीछे छिपा राज

हर कोई अपनी सेहत को स्वस्थ बनाए रखना चाहता है. ऐसे में अक्सर लोगों को ज्यादा हंसने की सलाह दी जाती है. यह सच है कि हंसने से हमारी सेहत अच्छी रहती है. मगर क्या आपने कभी सुना है कि कभी-कभी रो लेना भी सेहत के लिए लाभकारी होता है. जी हां, यह एकदम सत्य है. दरअसल, आंसू (Tears) मन में भरे गुबार और तनाव को दूर करते हैं. आइए आपको रोने के कुछ अनसुने फायदे बताते हैं.

मन हल्का करते हैं आंसू

कई बार आप अपने दिमाग में दबाव जैसा महसूस करते हैं. ऐसे में अगर आप थोड़ा लें, तो आपका मन को कुछ हद तक हल्का हो जाता है. कई वैज्ञानिकों का मानना है कि जब मन काफी दुखी हो, तो उस वक्त रो लेना बहुत अच्छा होता है. बता दें कि जब आप रोते हैं, तो आंसुओं के जरिए मन का बोझ उतर जाता है. इससे आपको काफी हल्का महसूस होता है.

नेगेटिव एनर्जी दूर करते हैं आंसू

जब हमारे मन पर किसी तरह का दबाव या बोझ होता है, तो कई तरह नकारात्मक विचार आने लगते हैं. ऐसे में रोना हमारी नकारात्मक सोच को खत्म कर देता है. इस तरह आप तनाव की स्थिति से बाहर आ जाते हैं और काफी हल्का महसूस करने लगते हैं.

आंखें होती हैं साफ

कभी-कभी रोना न सिर्फ तनाव से मुक्ति देता है, बल्कि हमारी आंखों को भी कई तरह के फायदे पहुंचता है. बता दें कि रो लेने से आंखों में गई धूल-मिट्टी खत्म हो जाती है.

आंखों में नमी है कायम रहती

अकसर हमारी आंखों की मेमब्रेन की चिकनाहट कम होने लगती है. इसका असर आंखों की रोशनी पर होता है, लेकिन आंखों से निकलने वाले आंसू इस चिकनाहट को बनाए रखते हैं. इस तरह आंखों में नमी बनी रहती है.

ये खबर भी पढ़ें: Maruti Suzuki की कारों पर मिल रहा बंपर डिस्काउंट, सिर्फ कुछ दिनों के लिए है ये ऑफर्स



English Summary: Crying is beneficial for health

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in