1. लाइफ स्टाइल

नौकरी में फिजिकल की तैयारी करने वालो के लिए वरदान है चना, जानिए कैसे

आपने कई लोगो को सुबह खाली पेट भीगे हुए चने का नाश्ता करते हुए देखा होगा. इसके पीछे का तर्क भी सुना होगा कि चने का नाश्ता सेहतमंद होने के साथ-साथ जल्दी पचने में सक्षम है. वैसे अगर आप भी शारारिक श्रम अधिक करते हैं, या नौकरी के लिए फिजिकल की तैयारी कर रहे हैं, तो आपके लिए इसका सेवन किसी वरदान की तरह है.

सिप्पू कुमार
Chana
Chana

आपने कई लोगो को सुबह खाली पेट भीगे हुए चने का नाश्ता करते हुए देखा होगा. इसके पीछे का तर्क भी सुना होगा कि चने का नाश्ता सेहतमंद होने के साथ-साथ जल्दी पचने में सक्षम है. वैसे अगर आप भी शारारिक श्रम अधिक करते हैं, या नौकरी के लिए फिजिकल की तैयारी कर रहे हैं, तो आपके लिए इसका सेवन किसी वरदान की तरह है.

ऊर्जा का भंडार है चना

चुस्ती और तंदरुस्ती के लिए जरूरी है कि आप रोजाना कम से कम एक मुट्ठी चने का सेवन करें. भीगा हुआ चना फाइबर, कैल्शियम, आयरन, विटामिन्स, प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट, फैट्स आदि से भरा हुआ होता है, जो एक ही बार में शरीर की कई जरूरतों को पूरा कर देता है.

इम्यूनिटी बढ़ाने में सक्षम

अगर आपको कमजोरी की शिकायत है, तो सुबह खाली पेट भीगा हुआ चना खाना शुरू कर दें. इसके सेवन से इम्युनिटी मजबूत होती है और आप बीमारियों से बचे रहते हैं. इसमें पाया जाने वाला क्लोरोफिल और फास्फोरस आपको कम समय में ऊर्जा देते हैं.

पेट की समस्याओं का खात्मा

विशेषज्ञों का मानना है कि शरीर की हर बीमारी का घर पेट से होकर गुजरता है. ऐसे में पेट को साफ रखने के लिए भीगे हुए चनों का सेवन करना फायदेमंद है. स्वाद बढ़ाने के लिए भीगे हुए चने में नमक, अदरक और स्नैक्स आदि भी मिला सकते हैं.

डायबिटीज में राहत

अगर आपको डायबिटीज की शिकायत है, तो सुबह खाली पेट भीगे चनों का सेवन करें. इससे डायबिटीज कंट्रोल में रहेगा. इसी तरह अगर आप हमेशा थकान महसूस करते हैं, तो शरीर की एनर्जी बढ़ाने के लिए भीगे चनों का उपयोग कर सकते हैं.

(आपको हमारी खबर कैसी लगी? इस बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दें. इसी तरह अगर आप पशुपालन, किसानी, सरकारी योजनाओं आदि के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो वो भी बताएं. आपके हर संभव सवाल का जवाब कृषि जागरण देने की कोशिश करेगा)

English Summary: Chickpea is very healthy for the people who are doing physical preparation of jobs Published on: 23 June 2020, 07:11 IST

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News