Lifestyle

इन 5 नैचुरल तरीकों को अपनाकर AC और Cooler के खर्चे से बचें !

अप्रैल माह समाप्त होने वाला है. धूप  ने भी अपना असर दिखाना शुरु कर दिया है. ऐसे में बिजली के खर्चे भी बढ़ने लगे है. क्योंकि बढ़ती गर्मी में एसी (AC), कूलर का उपयोग ज्यादा हो गया है. हालांकि एसी(AC)  या कूलर के नीचे रहने से सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है. इसके साथ ही लोगों को सेहत से जुड़ी कई तरह की समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है. ऐसे में कूलर, एसी(AC) खर्चे बढ़ाने के साथ -साथ बीमारियों का शिकार भी बना रहे है. तो आइए आज हम आपको घर को ठंडा रखने के लिए कुछ ऐसे नैचुरल तरीके के बारें में बताएंगे  जिनका इस्तेमाल कर आप इस चिलचिल्लाती गर्मी से तो बचेंगे ही और साथ ही आपका बिजली का खर्चा भी कम होगा.

पौधों से पाएं ठंडक

अगर आप अपने घर को नैचुरली ठंडा रखना चाहते है, तो आप घर के अंदर ठंडक देने वाले पौधे लगाएं. घर के मेन गेट और बरामदे के पास पौधे को रखने से गर्मी का असर काफी कम हो जाता है. इन पौधों की वजह से घर का तापमान 6 से 7 डिग्री तक कम ही रहता है.  जिससे गर्मी कम लगती है और घर ठंडा रहता है.

गर्मी में कालीन को न बिछाएं

गर्मी में कालीन बिछाने से घर गर्म रहता है. जिससे वह पूर्ण रूप से ठंडा नहीं हो पाता. जितना हो सके गर्मी के मौसम में कालीन न बिछाये जिससे आपका खाली फर्श ठंडा रहेगा और इस चिलचिल्लाती गर्मी में  ठंडे फर्श पर नंगे पैर चलने से सेहत भी अच्छी रहती है.

ठंडे पानी का छिड़काव करें

जितना हो सके दिन के समय में खिड़की दरवाजे खुले रहने दे. इससे घर की गर्मी बाहर निकलेगी और घर ठंडा रहेगा. इसके साथ ही अपने  घर की छत पर ठंडे पानी का छिड़काव भी करें. इससे आपका घर नेचुरल तरीके से ठंडा रहेगा. जितना हो सके अपने घर की छतों पर गहरा रंग न करवाएं. क्योंकि गहरे रंग जल्दी गर्मी सोखते है. घर को ठंडा रखने के लिए आप छतों पर सफेट पेंट या फिर पीओपी(POP ) करवाएं. इस तरीके से घर 70 से 80 प्रतिशत तक ठंडा रहता है.



Share your comments