Lifestyle

सही कहते हैं बड़े बुजुर्ग, सरसों तेल है सेहत का खजाना

सरसों तेल हमारी सेहत के लिए किसी खजाने से कम नहीं है. बहुत पुराने समय से इसका उपयोग नाना प्रकार के कार्यों के लिए होता आया है. विशेषज्ञों की माने तो सरसों का तेल पौष्टिक होने के साथ-साथ स्वास्थवर्धक भी है. यही कारण है कि भोजन बनाने के अलावा भी अन्य कई कामों के लिए इसका उपयोग होता है. सर्दियों के दिनों में तो ये तेल सेहत के लिए साक्षात वरदान के समान है. चलिए आपको इस तेल के कुछ प्रमुख फायदों के बारे में बताते हैं.

शरीर को देता है मजबूतीः

सरसों का तेल कमजोर और बीमार लोगों के लिए लाभकारी है. इसकी मालिश हमारे शरीर को आराम पहुंचाते हुए मांसपेशियां और हड्डियों को मजबूत करती है. इसके साथ ही रक्त के संचार को एक्टिव करती है. शरीर में गर्माहट पैदा करने में इस तेल का कोई मुकाबला नहीं है. इसलिए ठंड के दिनों में विशेषकर बुजुर्गों को इसकी मालिश जरूर करनी चाहिए.

दांतों के आराम में सहायकः

अगर आप भी दांतों की तकलीफ से प्रभावित हैं तो आपको सरसों के तेल में नमक मिलाकर दांतों को रगड़ना चाहिए. ऐसा करने से दांतों के दर्द से आराम मिलता है. इतना ही नहीं ऐसा करने से आपके दांत प्रभावी तौर पर पहले से अधिक मजबूत भी हो जाते हैं.

त्वचा का खास दोस्तः

आज के समय में बढ़ते हुए प्रदूषण के कारण त्वचा संबंधी समस्याओं से बड़ी संख्य़ा में लोग प्रभावित हैं. ऐसे में आपको हफ्ते में एक बार सरसों तेल की मालिश जरूर करनी चाहिए. ऐसा करने से आपका शरीर किसी भी भाग में फंगस से सुरक्षित रहता है. सरसों की मालिश आपके स्किन की चमक को भी बनाए रखती है.

बालों का झड़ना रोकेः

गिरते बालों की समस्या से अगर आप जुझ रहे हैं तो सरसों का तेल आपके लिए फायदेमंद है. यह गिरते बालों को मजबूती प्रदान करते हुए बालों की जड़ों से पोषित करता है. बालों को पोषक तत्व देते हुए ये उसे काला, घना एवं मोटा बनाएं रखता है. विशेषज्ञों के मुताबिक इसमे पाया जाने वाला ओलिक एसिड और लीनोलिक एसिड बालों की ग्रोथ बढ़ाने के में सहायक होते हैं. 



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in