1. लाइफ स्टाइल

40 पार हुआ पारा, तपती गर्मी से खेतों में ऐसे करें स्वयं का बचाव

जैसे-जैसे अप्रैल माह निकल रहा है, गर्मी का रूप प्रचंड होता जा रहा है. अधिकतर राज्यों में मौसम बदल रहा है और तेज गर्म हवाएं चलनी लगी हैं. तापमान के बढ़ने के साथ ही लू लगने का खतरा भी बढ़ गया है. ऐसे में खेतों में जाते समय किसान भाईयों को विशेष सर्तकता बरतने की आवश्यक्ता है. चिलचिलाती गर्मी में खुद का बचाव कैसे करना, चलिए इस बारे में हम आपको बताते हैं.

खेतों में जाते समय बरतें सावधानी

धूप में निकलते वक्त छाते का उपयोग करें. अगर छाता नहीं भी है तो किसी भी हाल में सिर को खुला न छोडिएं. कम से कम किसी कपड़े से सिर को ढक कर रखें. खेतों में जाने से पहले घर से पानी या कोई ठंडा पेय पदार्थों (आम पना, शिकंजी, खस या शरबत आदि) को पीना न भूलें.

खेतों से आने के बाद क्या करें

खेतों से घर में आते ही अगर अधिक पसीना आ रहा हो तो कुछ देर पानी का सेवन न करें. शरीर को आराम देने के 10 मीनट बाद ही पानी पीएं. हां, पानी का सेवन हर कुछ अंतराल के बाद करते रहें, इससे शरीर की सभी जरूरतें पूरी होती है.

लू से ऐसे करें बचाव

लू से बचने के लिए पानी में नींबू और नमक मिलाकर पीते रहें. कोशिश करें कि घर से बाहर खाली पेट कम से कम जाया जाए. हरी सब्जियों का सेवन अधिक से अधिक करें. भूख से बहुत अधिक भोजन करना आपके शरीर के लिए विशेषकर गर्मियों में नुकसानदायक हो सकता है, ऐसे में भोजन भूख के अनुसार ही करें. लू से बचने के लिए आम का लेप बनाकर पैरों के तलवों पर मालिश करें. अगर शरीर में घमौरियां निकल आई है तो बेसन को पानी में घोलकर लगाएं, इससे आपको कुछ आराम मिलेगा.

English Summary: 10 Tips for Extreme Heat Safety specially for Farmers know more about it

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News