1. औषधीय फसलें

Tulsi Ke Nuksan: तुलसी के अधिक सेवन से होंगे ये बड़े नुकसान, पढ़िए पूरा लेख

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Tulsi Ke Nuksan

Tulsi Ke Nuksan

तुलसी (Basil) एक ऐसा औषधीय पौधा (Medicinal plants) है, जो कई बीमारियों से लड़ने का एक मजबूत हथियार है. इसके सेवन से शरीर रोगमुक्त होता है. इसमें कई ऐसे औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जो हमारे शरीर को कई तरह से फायदे पहुंचाते हैं, इसलिए रोज सुबह तुलसी (Basil) के पत्ते चबाने की सलाह भी दी जाती है.

इसके पत्तों को चाय में भी डाला जाता है, ताकि चाय का स्वाद बढ़ाया जा सके. इसकी चाय पीने से कई बीमारियों के संक्रमण को दूर किया जाता है. मगर क्या आप जानते हैं कि अगर तुलसी का अधिक सेवन कर लिया जाए, तो इससे आपकी सेहत पर काफी बुरा नुकसान पड़ सकता है, तो आइए आपको तुलसी (Basil) के अधिक सेवन से होने वाले नुकसान के बारे में बताते हैं.

ब्लड शुगर लेवल होता है कम

आपको बता दें कि तुलसी (Basil) की पत्तियों में हाइपोग्लाइसेमिक लेवल कंट्रोल करने वाले गुण पाए जाते हैं, इसलिए अगर तुलसी के पत्ते अधिक मात्रा में चबाए जाएं, तो आपका बल्ड शुगर लेवल कम हो सकता है. अगर शुगर का कोई मरीज शुगर की दवाइयां ले रहा है और तुलसी का ज्यादा सेवन कर रहा है, तो उसका बल्ड शुगर में बहुत ज्यादा कमी आ सकती है, जो काफी नुकसानदेह है.  

गर्भवती महिलाओं के लिए है हानिकारक

अगर गर्भवती महिलाएं तुलसी का ज्यादा सेवन करती हैं, तो ये उनके लिए काफी नुकसानदेह हो सकता है. बता दें कि तुलसी (Basil)  में यूजेनॉल मौजूद होता है, जो महिलाओं के पीरियड शुरू होने का कारण बनता है. अगर तुलसी का अधिक सेवन किया जाए, तो गर्भवती महिलाओं को डायरिया की समस्या हो सकती है.  

मुंह में छालों की समस्या

तुलसी में यूजेनॉल पाया जाता है, जिससे मुंह में छाले हो सकते हैं, तो वहीं चक्कर भी आ सकते हैं. इतना ही नहीं, इसकी वजह से हार्ट रेट तक बढ़ सकता है, इसलिए तुलसी का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए.

पेट में जलन

तुलसी (Basil) का अधिक सेवन करने से पेट में जलन और कब्ज जैसी समस्या हो सकती है, क्योंकि इसकी तासीर काफी गर्म होती है. ऐसे में तुलसी के पत्तों का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए.

खून हो सकता है पतला

हमारे शरीर में खून का काफी महत्व होता है, लेकिन अगर आप तुलसी (Basil) के पत्तों का अधिक सेवन करते हैं, तो इससे आपके शरीर का खून पतला हो सकता है. जो लोग वालफरिन और हेपरिन जैसी दवाओं का सेवन करते हैं, उनको तुलसी का सेवन नहीं करना चाहिए.

(यह लेख सामान्य जानकारी के लिए है. अगर आप किसी भी चीज का सेवन या कोई घरेलू उपाय करना चाहते हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें.)

English Summary: There are many major disadvantages to eating too much basil

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News