1. पशुपालन

Italian Bee: इटैलियन मधुमक्खी पालन से मिलेगा 3 गुना ज्यादा शहद, जानें इसकी खासियत

अगर आप मधुमक्खी का पालन करते हैं, लेकिन फिर भी अधिक मात्रा में शहद नहीं प्राप्त कर पाते हैं, तो यह लेख आपके लिए बेहद मददगार साबित होगा. जानें इस मधुमक्खी से आपका व्यापार आगे बढ़ेगा.

लोकेश निरवाल
लोकेश निरवाल
'Italian Bee' bees will benefit 3 times
'Italian Bee' bees will benefit 3 times

देश के किसान भाई अधिक आय कमाने के लिए अब बागवानी फसलों के साथ अन्य व्यापार को भी कर रहे हैं. अगर आप भी बागवानी की फसल करते हैं, तो आपके लिए मधुमक्खी पालन का व्यवसाय (Beekeeping business) सबसे उत्तम है. दरअसल, मधुमक्खी का बिजनेस आज के समय में बहुत ही तेजी से उभर कर सामने आ रहा है.

देखा जाए, तो भारत में लगभग 80000 मिलियम से भी कहीं अधिक शहद का उत्पादन किया जाता है. यह शहद भारतीय मंडियों से लेकर विदेशों के बाजार में भी निर्यात किया जाता है. ऐसे में अगर आप भी मधुमक्खी पालन का बिजनेस करते हैं, तो आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं, लेकिन अच्छा लाभ कमाने के लिए भी आपको सही तरीके की मधुमक्खी का भी पता होना चाहिए कि आपको कौन सी मधुमक्खी पालनी चाहिए, जो आपकी आय को बढ़ाने में मदद कर सकें.

इटालियन मधुमक्खी (Italian bee)

अधिक मात्रा में शहद उत्पादन प्राप्त के लिए आपको मधुमक्खियों की उन्नत प्रजातियां का चयन करना चाहिए. वैसे तो मधुमक्खी की आम प्रजातियां जो आपको सरलता से कहीं भी देखने को मिल जाती हैं. वह भी शहद इकट्ठा करती हैं, लेकिन आम मधुक्खियों की तुलना में 3 गुना अधिक शहद उत्पादन प्राप्त करने के लिए इटालियन मधुमक्खी (Italian Honey Bee Farming) का चयन करना चाहिए.

इटालियन मधुमक्खी की खासियत (Features of the Italian Bee)

इस प्रजाति की मधुमक्खी सबसे अधिक फ्रेंडली होती हैं, जो चारों दिशाओं से शहद इकठ्ठा कर वापस अपने घर लौट आती हैं. ये ही नहीं इटालियन मधुमक्खी की आबादी कम समय में ही लगभग 50 हजार तक पहुंच जाती है और यह 3 गुना तक शहद इकट्ठा कर किसानों को मालामाल बना देती है.

इटालियन मधुमक्खी के शहद से कई उत्पादों का निर्माण

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इटालियन मधुमक्खी का श्रेय पंजाब कृषि विश्वविद्यालय को दिया गया है. जिन्होंने साल 1963 में इटालियन मधुमक्खी पर रिसर्च की गई है. इसके बाद इसे पंजाब के किसानों को ट्रेनिंग देकर उन्हें मुनाफा कमाने के लिए यह मधुमक्खी दे दिया. इस मधुमक्खी के शहद की क्वालिटी बाकी मधुमक्खी के मुकाबले बेहद अच्छी होती है. शायद इसलिए इसकी कीमत भी देश-विदेश के बाजार में काफी अधिक होती है.

अगर आप इटालियन मधुमक्खी की सही से देखभाल और यूनिट के बेहतर प्रबंधन के जरिये लगभग 40 से 50 किलोग्राम प्रति बक्सा के हिसाब से शहद उत्पादन प्राप्त कर सकते हैं. वहीं अगर आप बागानों के साथ इटालियन मधुमक्खी पालन करते हैं, तो आप इससे ओर भी अधिक मुनाफा कमा सकते हैं.

सरकारी की मदद से करें मधुमक्खी पालन (Do beekeeping with the help of government)

आप अगर पहली बार मधुमक्खी पालन कर रहे हैं, तो इसके लिए आप सरकार की भी मदद ले सकते हैं. दरअसल, सरकार राष्ट्रीय बागवानी मिशन (National Honey Mission) के तहत किसानों को इसके लिए ट्रेनिंग भी देती है.

इसके अलावा मधुमक्खी पालन के लिए नाबार्ड और राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड (National Bee Board) भी कई योजनाओं हैं, जिससे जुड़कर देश के किसान भाई लाभ उठा रहे हैं. बता दें कि भारत सरकार की तरफ से मधुमक्खी पालन के लिए लगभग 80 से 85 प्रतिशत तक आर्थिक अनुदान दिया जाता है.

English Summary: 'Italian Bee' bees will benefit 3 times, know its specialty and profit Published on: 16 September 2022, 05:02 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News